कोशिशे नाकाम होते देख पीछे हटा चीन, लद्दाख सीमा को लेकर कही ये बड़ी बात

16134

आज पूरा विश्व सिर्फ चीन की वजह से त’बाह हो चूका है. उसका सबसे बड़ा कारण है की चीन के वुहान से निकला कोरोना वायरस जिसने पूरे विश्व में हा’हा’का’र मचा रखा हैं. लेकिन उसके बाद भी ड्रैगन ने अपनी गलती को मानने को तैयार नहीं हैं. वो अपने गुना’हों पर हर बार पर्दा डालने की कोशिश कर रहा हैं.

इस वक़्त विश्व के कई देश चीन की इस ह’रकत से काफी ज्यादा नाराज़ नजर आ रहे हैं. चीन ने इन सबके बीच अब एक और हरकत करना शुरू कर दिया है. चीन ने भारत से लगती सीमा पर अपने सैनिक को बड़ी तादात में वहां पर तैनात कर दिया है. उसके तुरंत बाद भारत ने भी अपने सैनिकों कि संख्या को वहां पर बढ़ा दिया है .चीन को लग रहा है कि अभी भारत कोरोना वायरस की वजह से परेशान है. तो वो अपनी गीदड़ भ’भकी देकर उसको डरा लेगा लेकिन शायद चीन ये भूल गया है कि ये भारत 1962 वाला भारत नहीं हैं ये भारत पीएम मोदी का भारत है जो उसको मुह तो’ड़ जवाब देने का मादा रखता हैं.

भारत के पलटवार को देखने के बाद तुरंत ही चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि ‘भारत के साथ सीमा पर हालात पूरी तरह स्थिर और नियंत्रण-योग्य हैं. दोनों देशों के पास बातचीत और विचार-विमर्श करके मुद्दों को हल करने के लिए उचित तंत्र और संचार माध्यम भी उपलब्ध हैं.’ क्योकि चीन भी भारत की ताकत को अब बखूभी जनता हैं. उसका सबसे बड़ा कारण इससे पहले डोकलाम में जो हुआ था वहां पर भी भारत ने एक भी कदम पीछे नहीं हटाया था और चीन की सेना का  सामना किया था .

ताजा तनाव तब शुरू हुआ जब चीन ने भारतीय सीमा में चल रहे निर्माण कार्य पर आ’पत्ति जताई. हालांकि, भारतीय सेना ने बताया कि पेंगोंग में अब सं’घर्ष जैसी स्थिति नहीं है. इसे पहले भी एक सड़क का निर्माण हो चूका हैं. यही वजह है कि लद्दाख में चीन की छ’टपटा’हट लगातार सामने आ रही है. पिछले दिनों भी सिक्किम और लद्दाख में चीनी सैनिक भारतीय सैनिकों से उ’लझ पड़े थे. अब कोरोना की वजह से आज चीन भी अलग थलग हो चूका है जिसकी वजह से आज वो पूरी तरह बौ’खलाया हुआ नजर आ रहा हैं. चीन के लिए ये कहावत पूरी तरह से चरितार्थ है इस वक़्त में कि “खिसिया’नी बिल्ली ख’म्बा नो’चे”.