भारत की फटकार के बाद अब बदले अमेरिका के सुर, को’रोना को लेकर अब कर रहा ये मांग

655

डोनाल्ड ट्रम्प फरवरी महीने में भारत दौरे पर आये थे और उनको वो दौरा इतना भा गया कि वो आये दिन भारत कि तारीफों के पुल बंधा करते हैं. जबसे ट्रंप ने अमेरिका के राष्ट्रपति का पदभार संभाला है तब से भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय रिश्ते नयी ऊँचाइयों पर है. ऐसा नहीं है कि दोनों के रिश्ते में कभी तना’व नहीं आया. लेकिन जब भी दोनों देशों के रिश्ते में तना’व आया पीएम मोदी और राष्ट्रपति ट्रम्प की पर्सनल केमेस्ट्री इस तना’व को दूर करने में कार’गर साबित हुई. कई मौकों पर पीएम मोदी और ट्रम्प के बीच की केमेस्ट्री जय और वीरू की दोस्ती को भी मात करती है. इसलिए जब भारत ने को’रोना की मा’र झेल रहे अमेरिका के लिए हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवाई भेजी तो राष्ट्रपति ट्रम्प ने भारत, भारत की जनता और पीएम मोदी को तहे दिल से शुक्रिया अदा किया इसी को कहते हैं मोदी कि कूटनीति जिसमे मोदी को महारथ हासिल हैं.

अमेरिका और भारत के रिश्ते कभी भी इतने अच्छे नहीं रहें. लेकिन मोदी और ट्रंप के आने के बाद काफी सुधर गए हैं ये रिश्ते. एक वक्त था जब अमेरिका भारत की मदद करता था लेकिन आज वक़्त ने करवट बदल ली हैं. आज वक़्त भारत की तरफ है तभी तो कहते हैं की वक्त-वक्त की बात है. एक दौर था जब कभी भारत ने अनाज की कमी से निपटने के लिए अमेरिका से मदद मांगी थी. अब दुनिया का यह सुपर पावर देश कोरो’ना के खि’लाफ जं’ग में नई दिल्ली में बैठे प्रधानमत्री नरेन्द्र मोदी से मदद मांग रहा है. तभी तो कहते है की वक़्त इंसान का कब बदल जाये पता नहीं चलता क्योकि वक़्त पर किसी का जोर नहीं होता है.

अमेरिका को’रोना से लड़ रहा है लेकिन उसकी हालत बहुत अच्छी नहीं है क्योकि वहां पर मौ’त का आंक’ड़ा आये दिन बढ़ता जा रहा है. को’विड-19 ने अमेरिका को घुटनों के बल पर ला दिया है. रोज हो रही सैंक’ड़ों मौ’तों से परेशान अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) दवा की गुहार लगाई है. 50 के दशक से आज 2020 तक दुनिया में कई चीजें बदलीं. भारत दुनिया की सबसे तेज गति से उभरने वाला अर्थव्यवस्था बन चुका है और अब वह वॉशिंगटन की मदद कर रहा है .

US President Donald Trump and Indian Prime Minister Narendra Modi attend “Howdy, Modi!” at NRG Stadium in Houston, Texas, September 22, 2019. – Tens of thousands of Indian-Americans converged on Houston on Sunday for an unusual joint rally by Donald Trump and Narendra Modi, a visible symbol of the bond between the nationalist-minded leaders. With many in the crowd decked out in formal Indian attire or the signature saffron of Modi’s Bharatiya Janata Party, the event kicked off in a football stadium with a Sikh blessing, boisterous bhangra dancing and, in a nod to local customs, cheerleaders in cowboy hats. (Photo by SAUL LOEB / AFP) (Photo credit should read SAUL LOEB/AFP via Getty Images)

आज भारत ने भी अमेरिका की बढ़ चढ़ कर मदद कर रहा है. कोरो’ना महा’मा’री के भया’नक संकट के दौर से गुजर रहे अमेरिका को हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन के निर्यात को भारत सरकार की मंजूरी मिलने के बाद अमेरिका पीएम मोदी की जमकर तारीफ कर रहा हैं. ट्रंप काफी खुश नजर आ रहे हैं. बुधवार को ट्वीट कर ट्रंप ने भारत के प्रति अपनी कृतज्ञता जाहिर की थी. उन्होंने पीएम मोदी और भारतीय लोगों का धन्यवाद करते हुए अपने ट्वीट में कहा कि भारत की इस मदद को भुलाया नहीं जाएगा. माना जा रहा है कि मलेरिया की यह दवा कोरो’ना से लड़ने में कारगार है. हालांकि न तो वैज्ञानिक और न ही डॉक्टर इस बात की पुष्टि कर रहे हैं.

आज वक़्त और मोदी की राजनीति और कूटनीति की वजह से अमेरिका जो सबकी मदद करता है आज उसकी मदद भारत कर रहा है. भारत देश आज मोदी की वजह से इस लायक बना है.