भारत देने जा रहा मलेशिया को 11 अरब डॉलर का झटका, टूट जायेगी उसकी अर्थव्यवस्था

मलेशिया के भारत विरोधी रुख से नाराज हो कर भारत सरकार अब मलेशिया को दूसरा झटका देने जा रही है. भारत सरकार ने पहले ही मलेशिया से पाम ऑइल के आयात पर रोक लगा कर उसे घुटनों पर ला दिया है. भारत के इस कदम से मलेशिया को इतना जोरदार झटका लगा कि उसने भारत को मनाने के लिए बातचीत करनी चाही. मलेशिया के प्रधानमंत्री महातीर मोहम्मद ने स्वीकार कर लिया कि भारत के सामने मलेशिया कुछ भी नहीं. लेकिन भारत सरकार ने ठान लिया है कि वो मलेशिया को पूरी तरह से सबक सिखा कर रहेगी.

भारत सरकार अब मलेशिया को 11 अरब डॉलर का झटका देने जा रही है. पाम ऑइल के बाद अब भारत, मलेशिया से कई और वस्तुओं के आयात पर रोक लगाने की तैयारी कर रही है. अगर भारत ऐसा करता है तो मलेशिया की अर्थव्यवस्था को 11 अरब डॉलर का झटका लगेगा.

भारत जिन वस्तुओं का आयात मलेशिया से करता है उनमे प्रमुख है, कच्चा तेल, रिफाइंड पाम ऑयल, क्रूड पाम ऑयल, कॉपर एवं एल्युमिनियम वायर, माइक्रोप्रोसेसर और अन्य कंप्यूटर एवं टेलीकॉम उत्पाद, टर्बोजेट, एल्युमिनियम इग्नोट, एलएनजी आदि. अगर भारत इन वस्तुओं के आयात पर रोक लगाईं तो मलेशिया की कमर टूट जायेगी.

साल 2018-19 में भारत ने मलेशिया से 11 अरब डॉलर का निर्यात किया था. इस वित्तीय वर्ष में करीब 7 अरब डॉलर का कारोबार हो चूका है. इससे ही समझा जा सकता है कि क्यों मलेशिया के प्रधानमंत्री ये स्वीकार कर रहे हैं कि वो भारत के सामने नहीं टिक सकते.

Related Articles