Income tax भरना इसलिए होता है जरूरी

1628

tax को कैसे बचाया जाए? tax को कम कैसे किया जाए ? कमाई का इतना हिस्स्सा tax में ही चला जाता … यह सरे सवाल और यह बातें हमें अक्सर सुनने को मिल जाती हैं..
अगर आप नौकरी कर रहे है या फिर आपके पास कोई income का source होता है तो आपको income tax भरना पडता है …

इनकम टैक्स भरने से हर आदमी बचना चाहता है…… लेकिन क्या आप जानते हैं कि टैक्स भरने के कई बड़े फायदें भी हैं…. आयकर कानून के मुताबिक, 5 लाख रुपये की टैक्स छूट की सीमा के अंदर कमानेवाले लोगों को आईटीआर भरने की कोई बाध्यता नहीं है……. एक्सपर्ट्स बताते हैं कि अगर आपकी आमदनी 5 लाख रुपये से कम है तब भी आप इनकम टैक्‍स रिटर्न यानी आईटीआर फाइल जरूर करें.…. इसके कई फायदे हैं….. इनकम टैक्‍स रिटर्न फाइल करने से आपको बैंक लोन मिलने में आसानी होती है. बिजनेस के मौके मिलने सहित कई फायदे मिलते हैं……. वैसे आपको बता दें पिछले साल तक टैक्स में छूट की सीमा 2.5 लाख की थी जो अब बढ़ कर 5 लाख हो गई है……..

तो आइये हम आपको बताते है income tax के क्या फायदे हैं ?

(1) लोन और वीजा पाने में मददगार है ITR
आपको कितनी रकम तक का कर्ज दिया जा सकता है या आप कितनी बार कर्ज लेने के योग्य हैं, यह आपकी आमदनी से तय होता है. और, आपकी आमदनी की पुष्टि आपकी ओर से फाइल आईटीआर से होती है, इनकम टैक्स रिटर्न से आपकी कुल सालाना आमदनी और इस पर दिए गए टैक्स की विस्तृत जानकारी मिलती है. विभिन्न एजेंसियां आईटीआर में दी गई जानकारी के आधार पर ही लोन देने और वीजा जारी करने से संबंधित फैसले लेती हैं.

(2) ज्यादा बीमा कवर मिलेगा-
अगर आप एक करोड़ रुपये का बीमा कवर (टर्म प्लान) लेना चाहते हैं तो बीमा कंपनियां आपसे आईटीआर मांग सकती हैं…… वास्तव में वे आपकी आय का स्रोत जानने और उसकी नियमितता परखने के लिए आईटीआर पर ही भरोसा करती हैं.

(3) बड़े लेन-देन में जरूरी-
अगर आप अधिक पैसे का कोई लेन-देन करते हैं तो आईटीआर आपके लिए मददगार साबित होता है. समय पर आईटीआर फाइल करते रहने की वजह से प्रॉपर्टी खरीदने-बेचने, बैंक में बड़ी रकम जमा करने, म्यूचुअल फंड में बड़े निवेश के बाद आपको इनकम टैक्स विभाग से नोटिस आने का खतरा नहीं होता.

(4) कारोबारी मौके दिलाने में मददगार-
अगर आप कारोबारी हैं, कोई उत्पाद बनाते हैं या कारोबारी हैं और सरकारी कंपनी को अपना प्रोडक्‍ट बेचना चाहते हैं तो आपके लिए आईटीआर फाइल करना जरूरी है…. आम तौर पर सरकारी विभाग या कंपनियां उन्‍हीं कारोबारियों से उत्पाद लेती हैं जो कम से कम पिछले दो-तीन साल से आईटीआर फाइल कर रहे हों……… वास्तव में आईटीआर आपको कारोबारी मौके दिलाने में मददगार साबित हो सकता है.

(5) .TDS क्लेम के लिए आवश्यक-
अगर आपकी कमाई पर किसी ने टैक्स काटा (स्रोत पर कर कटौती यानी टीडीएस) है तो उसे वापस लेने के लिए आईटीआर फाइल करना जरूरी है. अगर आप फ्रीलांसिंग या घर से बैठकर कोई काम करते हैं और आपकी आमदनी करयोग्य नहीं है, फिर भी आपको पेमेंट करने वाला टीडीएस काट सकता है.अगर आपके साथ भी ऐसी ही स्थिति है तो आयकर रिटर्न भर कर आप टीडीएस रिफंड ले सकते हैं.

tax भरना बहुत ज़रूरी है… हमारे लिए .. हमारे देश के लिए … और देश के development के लिए… भले ही tax देकर आपको अफ़सोस होता है लेकिन सच बताए तो यह tax हमलोगों के लिए ही लिया जाता है… जैसे हम किसी सोसाइटी में रहते है तो हमें मेंटेनेंस चार्ज देना होता जिससे हमें हमारी बेसिक facilities मिलती हैं … वैसे ही देश के इंफ्रास्ट्रक्चर और development के लिए income tax भरना बहुत जरूरी है….