UP खनन घोटाले में अखिलेश यादव से हो सकती है पूछताछ, CBI ने IAS बी चंद्रकला सहित 11 पर दर्ज किए हैं केस

449

UP कैडर की वो IAS मैडम जिन्हें 2 दिन पहले तक लोगों द्वारा लेडी सिंघम के नाम से बुलाया जाता था , मैडम अपनी सेफ्फी और एक पत्रकार के साथ विवाद की बजह से भी काफ़ी मशहूर हुए थी .उन्हें एक ऐसी अधिकारी के रूप में जाना जाता है जो सरेआम अफसरों को डांटती थी ,और रोकने टोकने वालों को भी सरेआम चुप करा देती थी ,ऐसी अफसर जिसे इमानदारी की मिसाल तक बुलाने लगे थे ,लोग जो घूसखोरों को इमानदारी का पाठ पढाया करती थी

source- india today

ये तो अच्छा है पहले इमानदारी का ढोंग दिखाओ और फिर खा कर बैठ जाओ और वो भी छोटा मोटा नहीं बल्कि करोड़ों का आप की इस इमानदारी के क्या कहने करप्शन के ऊपर एक्शन लेने वाली लेडी सिंघम के दामन पर अब खनन घोटाले के दाग लग रहे ,सीबीआई up में हुए 2012 से 2016 के बीच हुए अवैध खनन की जांच कर रही है. सीबीआई को इस जांच के आदेश इलाहाबाद हाई कोर्ट ने 28 जुलाई 2016 ही दिए थे. और जांच-पड़ताल के बाद 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया. इसमें यूपी की मशहूर आईएएस अधिकारी बी चंद्रकला भी हैं. उन पर 2012 में हमीरपुर में डीएम रहते गलत तरीके से खनन के पट्टे जारी करने के आरोप हैं.

source-dna india

CBI ने चंद्रकला के नाम से घोटाले की फाइल खोल दी ,सबूत इकट्ठे हो रहे है. उनके घर पर जाकर तलाशी ली जा रही है ,सपा सरकार में बी चंद्रकला हमीरपुर ,bulandshar,मेरठ ,सहित पांच जिलों में डीएम रही ,सीबीआई की टीमों ने इसी मामले में लखनऊ, हमीरपुर, कानपुर, जालौन, नोएडा और दिल्ली के अलावा तेलंगाना में कुल 14 ठिकानों पर छापेमारी की थी. सीबीआई ने एफआईआर में उन नेताओं की का भी जिक्र किया है, जिनके पास साल 2012 से 2016 के बीच खनन विभाग था. उस दौरान तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव और गायत्री प्रसाद प्रजापति के पास यह विभाग था. ऐसे में अरविन्द केजरीवाल भी विवाद में खुदने से पीछे नहीं रहे ,जो १०१२ अखलेश यादव को गुनेहगार मान रहे थे ,वो भी अब इससे मोदी सरकार की राजनैतिक शाजिश बता रहे है ..
अब इनका ये दोगलापन यही जाने.

Source- khabar ndtv


ऐसे में जांच की आंच अखिलेश यादव और गायत्री प्रसाद प्रजापतितक भी पहुंचनी तय है. यही वजह है कि इसे अखिलेश यादव राजनैतिक साजिश बताने लगे हैं. अब देखने वाली बात यही होगी , कि ये जांच आगे कहां तक जाती है और इस पर कितने बड़े लोगों के नाम सामने आतें है.