कमिश्नर वी सी सज्ज्नार क्यों कहे जाते हैं एनकाउंटर स्पेशलिस्ट, चारो आरोपी खत्म

5592

जब पूरा देश सो रहा था, हैदराबाद पुलिस ने अपना काम कर दिया, सुबह उठते ही खबर मिली कि हैदराबाद में दिशा के चारों आरोपियों को हैदराबाद पुलिस ने एन्काउंटर में ढेर कर दिया.. पुलिस के मुताबिक आरोपियों को जिस जगह पर उन्होंने रे’प घटना को अंजाम दिया था वहां ले जाया गया और सीन को रेक्रेअट करने के लिए बोला, उस दौरान उन आरोपियों ने पहले भागने की कोशिश की फिर पुलिस के हाथ से बन्दूक छीनकर फायरिंग करने की कोशिश की तब अपने बचाव में पुलिस ने आरोपियों पर गोली चलायी और इस बचाव में किये गये एन्कोउन्टर में सभी आरोपी मारे गये.. इस पूरे मामले में किसी की अगर जमकर तारीफ हो रही है तो वो हैं इस अन्कोउन्टर को करने वाले पुलिस कमिश्नर सज्जनार की और इस वक्त साइबराबाद पुलिस की कमान उन्ही के हाथों में है, उनके बारे में कहा जाता है कि वो Encounter स्पेशलिस्ट हैं..

क्यूँ उनको Enc-ount-er स्पेशलिस्ट कहा जाता है..  

ये साल 2008 का एक मामले की बात है जब तेलंगाना के वारंगल में एक कॉलेज की लडकी के ऊपर कुछ मनचलों ने तेज़ाब फेंक दिया था, इसको लेकर पूरे इलाके में काफी तनाव का माहौल था और विवाद भी हुए, पुलिस पर सवाल उठाये जा रहे थे लेकिन उसके कुछ ही समय बाद कमिश्नर सज्ज्नार ने 3 आरोपियों को इस केस में Encounter ढेर कर दिया.. उस वक्त भी हिरासत में रहने के दौरान तीनों आरोपियों ने पुलिस पर हमला कर दिया था जिसकी वजह से पुलिस को उन आरोपियों को ढेर करना पड़ा..

आप सोच रहे होंगे एक दो केस में ही इन्होने Encounter  किये होंगे.. लेकिन आप गलत हैं क्यूंकि पुलिस कमिश्नर सज्ज्नार Encounter स्पेशलिस्ट इसलिए हैं क्यूंकि उन्होंने सिर्फ रेप के आरोपी ही नहीं बल्कि कई माओवादियों के एनकाउंटर में ढेर किया है…वहीँ अगर बात करें हैदराबाद में बतौर पुलिस कमिश्नर नके पद सम्भालने की तो उन्हें अभी सिर्फ डेढ़ साल ही हुए हैं इस पद पर आये हुए…

हालांकि,   संविधान में दर्ज कानून के मुताबिक अभी इस एनकाउंटर की मजिस्ट्रेट जांच की जाएगी जिसमें इस Encounter  से जुड़े हर एक पहलू की बारीकी से जांच की जाएगी…..इस जांच में तमाम चीजों पर बात होगी कि क्या वाकई Encounter के लायक वहां हालात थे या नहीं…. खैर जाँच अपनी जगह हैं, लेकिन हैदराबाद पुलिस टीम की और कमिश्नर वी. सी सज्ज्नार की हर कोई तारीफ कर रहा है..