पीएम मोदी के लिट्टी चोखा खाने के बाद बढ़ी लिट्टी चोखा की मांग, दुकानों में उमड़ी भीड़

1227

हमारे देश में जब भी कुछ होता हैं उस पर सियासत पहले चालू हो जाती हैं. चाहे कोई भी मुद्दा हो. विपक्ष हमेशा तैयार रहता हैं राजनीति करने के लिए. लेकिन इस बार कुछ ऐसा हुआ हैं. जिसके बारे में आप भी जानकर चौक जाएंगे. जी हाँ इस बार सियासी गलियारों में कुछ ऐसा हुआ हैं जिसके बाद से राजनीति तो हो ही रही हैं. लेकिन विपक्ष के नेताओं के अलावा कुछ ऐसे भी नेता हैं जो इस होड़ में शामिल हो गए हैं. जहां देश भर में CAA को लेकर शाहीन बाग का मुद्दा गरमाया हुआ हैं वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसा भी हुआ जिसके बाद राजनीति ने फिर से तूल पकड़ लिया.

दरअसल आपको बता दें देश की राजधानी कहे जाने वाले शहर दिल्ली में कुछ दिनों से हुनर हाट लगा हुआ हैं. जिसमे कई प्रकार की स्टॉल लगी हुई हैं. ख़ास बात यह हैं कि दिल्ली में लगे हुनर हाट में पीएम मोदी ने बिहार का प्रसिद्ध भोजन लिट्टी चोखा का आनंद लिया. जिसके बाद से पीएम मोदी के लिट्टी चोखा खाने को लेकर ही सियासी गलियारों में हलचल मच गयी. बता दें पीएम मोदी के लिट्टी चोखा खाने के बाद से बीजेपी के नेताओं में भी लिट्टी चोखा खाने की होड़ मच गयी हैं. हुनर हाट में कई तरह के वेज और नॉन वेज व्यंजनों की स्टॉल लगी थी लेकिन पीएम मोदी वेज खाने के ही शौक़ीन हैं इसलिए वो सादा खाना ही पसंद ही करते हैं.

हुनर हाट में प्रधानमंत्री मोदी के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, रविशंकर प्रसाद, महेंद्र नाथ पांडे, जितेंद्र सिंह, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला, हरदीप सिंह पुरी, पीयूष गोयल, अनिल जैन और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की पत्नी सोनल शाह भी लिट्टी चोखा खाती हुई दिखी. वही दूसरी तरफ पीएम मोदी के लिट्टी चोखा खाते ही इस पर सियासी राजनीति चालू हो गयी जहा एक तरफ तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी को धन्यवाद कहा और कई मांगे राखी. लेकिन तेज प्रताप ने पीएम मोदी पर भोजपुरी में तंज कसते हुए कहा कि कतनो खाइब लिट्टी-चोखा, बिहार ना भूली राउर धोखा. गौरतलव हैं बिहार में पीएम मोदी के लिट्टी चोका खाए के बाद बिहार में कुछ लोगों के पेट में दर्द होने लगा हैं. जिसके वजह से अब वहां के लोगो को इससे दिक्कत होने लगी हैं.