फिर से खाली हो गया हि’जबुल का कमांडर पोस्ट, मा’रा गया हि’जबुल का टॉप कमांडर फारुक अहमद भट्ट

660

इन दिनों आ’तं’की संगठन हि’जबु’ल मु’जाहि’द्दीन के कमांडर पोस्ट पर जो भी बैठता है वो ज्यादा दिन तक उसपर बैठा नहीं रह पाता. भारतीय सुरक्षा बल उसे जन्नत की तरफ रवाना कर देते हैं. रियाज नायकू के बाद अब हि’जबु’ल का टॉप कमांडर फारुक अहमद भट्ट भी मा’रा गया. आज दक्षिणी कश्मीर के शोपियां में आ’तंकि’यों के साथ हुई सुरक्षा बलों की मु’ठभे’ड़ में पांच आ’तं’की मा’रे गए. इन्ही में से एक हि’जबु’ल का टॉप कमांडर फारुक अहमद भट्ट भी था. हालाँकि अभी सुरक्षा बलों की तरफ से आधिकारिक बयान का इंतजार किया जा रहा है.

सुरक्षा बालों को इनपुट मिला था कि शोपियां जिले के रेबन गाँव में कुछ आ’तं’की छुपे हुए हैं. सुरक्षा बलों ने घेराबंदी कर आ’तंकि’यों को आत्मसमर्पण करने को कहा लेकिन आ’तंकि’यों ने फा’यरिं’ग शुरू कर दी. जवाब में सुरक्षा बलों ने भी फा’यरिं’ग की और इस मु’ठभे’ड़ में पांच आ’तं’की मारे गए जिनमे से एक हि’जबु’ल का टॉप कमांडर फारुक अहमद भट्ट था. श्रीनगर के एक पत्रकार ने इसकी जानकारी दी.

सबसे अच्छी बात ये रही कि इस मु’ठभे’ड़ में सुरक्षा बलों को कोई नुकसान नहीं हुआ. इलाके में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है ताकि अफवाह न फैले. इस ऑपरेशन में सेना की 1-आरआर, सीआरपीएफ की 178 बटालियन और एसओजी के जवान शामिल थे. करीब 2 हफ्ते पहले कुलगाम जिले के येरिपोरा में हुई मु’ठभे’ड़ में फारूक अहमद भट्ट भाग निकला था लेकिन आज आखिरकार वो जन्नत रवाना हो ही गया.