दिल्ली सरकार की तरफ से बॉर्डर सील होने को लेकर मचा बवाल, दिल्ली हाई कोर्ट ने दिया ये निर्देश

239

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए राज्य सरकार ने बॉर्डर सील किया था. जिसके बाद लोगों को आवाजाही में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा हैं. लेकिन इसके खि’लाफ दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की गई हैं. जिसपर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है. हाई कोर्ट ने ‘दिल्ली सरकार से कहा है कि जो लोग इलाज करवाने के लिए दिल्ली आना चाहते हैं, उन्हें सरकार ना रोके और इस बारे में नोटिफिकेशन भी जारी करे.’

जब इस मामले की सुनवाई के दौरान राज्य सरकार ने हाई कोर्ट को बताया कि ‘जिन लोगों को इलाज कराने के लिए दिल्ली आना है उनको ई-पास दिए जा रहे हैं. जिन्हें इलाज कराना है और जरूरी काम से आना है, उन्हें दिल्ली आने की मनाही नहीं है.’इस सुनवाई के बाद दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा है कि ‘दिल्ली सरकार इसको लेकर नोटिफिकेशन अपनी वेबसाइट पर अपलोड करे. इसकी जानकारी लोगों को दी जाए.’ इस सुनवाई में ये भी तय हुआ है कि अगर कोई नॉएडा गाज़ियाबाद समेत एनसीआर के शहरों से प्रशासन कोई पास जारी करता हैं तो वो भी मान्य होगा. उसपर किसी भी प्रकार की कोई रोकटोक नहीं होगी.

दिल्ली में बढ़ते कोरोना मरीजो की संख्या को देखते हुए दिल्ली सरकार ने अपने बॉर्डर को 7 दिनों के लिए सील किया हैं. यही देखते हुए दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने कहा है कि 7 दिन बाद इसकी समीक्षा होगी.  इन सबके बीच दिल्ली हाई कोर्ट ने ये भी कहा है कि ‘जिन लोगों को दिल्ली आने में किसी भी प्रकार की कूई दिक्कत का सामना करना पद रहा है वो लोग याचिका दायर करने के लिए स्वतंत्र हैं.’ लेकिन लोगों की इस समस्या का निपटारा जल्द से जल्द किया जा रहा हैं.