इस वजह से कमजोर हो रहा कोरोना, दिल्ली के बाद मुंबई से आई ये खुशखबरी

17

कोरोना वायरस के क’हर से आज पूरा देश जू’झ रहा है. जिसकी वजह से स्थि’ति काफी ज्यादा ख़राब ही गयी है साथ ही दिन पर दिन मामले भी बढ़ते जा रहे है ऐसे में कोरोना का ड’र अब लोगो में अपनी दह’शत फैलाता जा रहा है. दूसरी तरफ अभी कोरोना से संक्र’मित लोगो की संख्या 13 लाख से ऊपर पहुँच गयी है. जिसके बाद हा’लात काफी नाजुक हो गए है.

वही दूसरी तरफ थोड़ी सी राहत भरी भी खबर सामने आई है. दरअसल सीरो सर्वे में पाया अगया है कि  भिवंडी और ठाणे में ऐंटी’बॉडी टेस्ट का सबसे ज्यादा पॉ’जिटिविटी रेट 47.1 फीसदी है. इसके अलावा मुंबई में 5485 लोगों का टेस्ट किया गया, इनमें से 1,501 लोग, मतलब 27.3 फीसदी में ऐंटी’बॉडी पाए गए है. वही बीएमसी का कहना है कि यह परिणाम हर्ड इम्यु’निटी के बारे में और अधिक जानकारी हासिल करने में महत्वपूर्ण है. साथ ही इस संबंध में दूसरा सर्वे होगा जो कि वायरस के प्रसार और हर्ड इम्यु’निटी विकसित हुई या नहीं इस पर जांच करेगा. यह सीरो सर्वे नीति आयोग, बीएमसी और टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च ने संयु’क्त रूप से किया है.

इसके अलाव कुछ अधिकारियों का कहना है कि सीरो सर्वे का यह परिणाम इस ओर इशा’रा करता है कि बिना ल’क्षण वाले संक्र’मण की द’र अन्य सभी प्रकार के संक्र’मण से अनु’पात में ज्यादा है. साथ ही बीएमसी ने कहा कि हालांकि जनसंख्या में पुरुषों के मुका’बले महिलाओं में सं’क्रमण द’र आंशि’क रूप से ज्यादा है. इसके साथ ही मुंबई में हुए सीरो स’र्वे में कहा गया कि यहां तीन निकाय वॉ’र्डों के स्ल’म एरिया में रहनेवाली 57 फीसदी आबादी और झुग्गी इलाकों से इतर रहनेवाले 16 फीसदी लोगों के शरीर में ऐंटीबॉ’डी बन गई हैं.