भारत में कोरोना टेस्ट किट लेकर केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने दी राहतभरी खबर !

दुनियाभर के देशों की तमाम कोशिशों के बावजूद भी कोरोना का कहर थम नहीं रहा है. हर दिन कोरोना के मरीजों की रफ़्तार काफी तेजी से बढ़ रही है. दुनियाभर के देश इस बीमारी का इलाज ढूढ़ने में लगे हुए हैं न ही इसकी दवा बनी है न ही कोई वैक्सीन तैयार हुई है जिससे लोगों को इस बीमारी से बचाया जा सके. हर देश इस बीमारी की दवा बनाने में लगा हुआ है लेकिन कहीं से भी राहतभरी खबर नही आ रही है.

जानकारी के लिए बता दें भारत में इस समय कोरोना के टेस्ट को लेकर भी सरकार को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. चीन ने भारत के खराब किट भेज दी जिसके बाद टेस्टिंग के नतीजे अलग ही आ रहे थे और फिर भारत सरकार ने इन किट को वापस भेजने का फैसला लिया. अब कोरोना टेस्ट किट को लेकर भारत के लिए अच्छी खबर आ रही है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्ष वर्धन ने मंगलवार को कहा है कि हम मई तक भारत में आरटी-पीसीआर और एंटीबॉडी टेस्टिंग किट बनाने में सक्षम होंगे. उन्होंने दावा किया है कि सारी प्रतिक्रियाएं एडवांस स्टेज में हैं और आईसीएमआर से मंजूरी मिलने के बाद उत्पादन भी शुरू हो जायेगा. जिसमें हमें एक मई तक प्रतिदिन एक लाख टेस्टिंग का लक्ष्य पूरा करने में मदद मिलेगी.

केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये दिल्ली के एलजी, एमसीडी कमिश्नर, डीएम, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री और राजधानी के सभी जिलों के डीसीपी के साथ समीक्षा बैठक भी की. इस दौरान केंद्रीय/राज्य और जिला निगरानी अधिकारी और सरकारी अस्पतालों के प्रमुख भी शामिल थे. कोरोना वायरस राजधानी में व्यापक रूप से फ़ैल रहा है. हर्षवर्धन ने बताया है कि मौजूदा समय में करीब 100 हॉटस्पॉट भी हैं और ये संख्या कम नही है. वहीँ केंद्रीय मंत्री कोरोना टेस्ट किट को लेकर देश के लिए राहतभरी खबर दी है. अब भारत खुद इस बीमारी को जांचने की किट बनाएगा.