हरियाणा सरकार ने कोरोना महामारी के चलते बिजली ग्राहकों को दिया ये बड़ा तोहफा

देश इस समय कोरोना महामारी से जूझ रहा है. कोरोना के चलते पूरे देश में पिछले काफी समय से लॉकडाउन चल रहा है. लॉकडाउन की वजह से सारे कामकाज बंद पड़े हैं और आवाजाही पर प्रतिबंध था. हालाँकि सरकार ने लॉकडाउन 5 के दौरान काफी रियायते दी हैं. लॉकडाउन की वजह से लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा है. कामकाज बंद होने के चलते लोगों की पैसों की समस्या है. इसी बीच हरियाणा सरकार ने बड़ा फैसला लिया है.

जानकारी के लिए बता दें कोरोना वायरस की वजह से हरियाणा की खट्टर सरकार ने इस बात का फैसला लिया है कि बिजली दरों में इजाफा नहीं किया जायेगा. हरियाणा सरकार के इस कदम के बाद 68 लाख बिजली उपभोक्ताओं को फायदा मिलेगा. हरियाणा विद्युत नियामक आयोग ने कहा इस फैसले के चलते कहा है कि कोरोना महामारी से वैसे ही लोग काफी परेशान हैं ऐसे में बिजली बिल में बढ़ोत्तरी करना किसी तरह से तर्कसंगत नहीं है.

हरियाणा सरकार ने इस फैसले के साथ कृषि आधारित उद्योगों के लिए नई कैटेगिरी बनाई है. जिन लोगों के पास 20 किलोवाट का लोड है उनसे प्रति किलोवाट 4.75 रूपये का चार्ज लिया जायेगा. वहीँ इससे पहले इन लोगों से 7.05 किलोवाट तक चार्ज लिया जाता था. सरकार की तरफ से दी गयी इस राहत के चलते उद्योगों को 42.5 करोड़ रूपये सालाना का फायदा होगा.

गौरतलब है कि हरियाणा सरकार की ये नई दरें 1 जून से लागू हो जायेंगी. वहीँ अगर हम घरेलू उपभोक्ताओं की बात करें तो जो लोग हर माह 150 यूनिट बिजली का उपयोग करते हैं उनको 50 यूनिट तक 2 रूपये प्रति यूनिट देना होगा वहीँ 800 यूनिट हर माह इस्तेमाल करने वाले लोगों के लिए 42 पैसे प्रति यूनिट की कमी की गयी है जिससे उनका भी बिल 10 फीसदी तक कम हो जायेगा.