गोरखपुर में जेंट्स सलून चला देश भर में चर्चा में आईं दो सगी बहने

571

कहते है ऐसे बहुत से काम है जिन्हे महिलाये नहीं कर सकती, पर ये बात आज के दौर में बिलकुल गलत साबित हो रही है ,अब महिलाये हर छेत्र में अपना नाम कर रही है ,दमकल विभाग में अपनी पहचान बनाना या फिर अकेले लड़ाकू विमान उड़ना ,या क्रिकेट के मैदान में दूसरी टीम के छक्के छुड़ाना या चाहे वो ऑटो ,रिकशा चलाना हो और भी कई ऐसे ,जहाँ महिलाओ ने अपनी काबिलियत का लोहा मनवाया है, अब आपको जादा न घुमाते सीधे सीधे मुद्दे पर आते है ,बात कुछ ऐसी है की योगी के गोरखपुर मंडल के छोटे से गांव में जेंट्स सलून चला कर पूरे देश भर में में चर्चा का विषय बनी ,दो सगी बहनों, ज्योति और नेहा के समर्थन और सम्मान में आज हर कोई आ खड़ा हुआ है।

पिता को लकवा मार जाने के बाद पांच साल से परिवार की रोटी का इंतजाम करने में जुटीं इन दोनों बहनों के संघर्ष को द चौपाल भी सलाम करता है ,इन बहनों ने समाज की धारा के, विपरीत पुरुष प्रधान पेशे को विपरीत परिस्थितियों में अपनाया ,और जब इनकी ये कहानी दैनिक जागरण में प्रकाशित हुए ,फिर लोगों और मजिस्ट्रेट के सामने आई ,विधायक और मजिस्ट्रेट ने उनके गाव जाकर उन्हें सम्म्मानित किया, और कहा कि दोनों बहनें समाज को बदलने वाली असल नायिका हैं, और कहा कि मेरे क्षेत्र की इन बेटियों ने अपने साहस के बल पर वह किया, जिसकी आज के टाइम में कल्पना भी नहीं कर सकते .

जब आंख से छलके आंसू…

सम्मान मिला तो दोनों बेटियों और उनके पिता ध्रुवनारायण शर्मा भावुक हो उठे। आंखों में आंसू आ गए। नेहा तो अपने को रोक नहीं पाई और फफक कर रो पड़ी। पिता ने कहा कि समाज ने बहुत कुछ कहा तो अपनों ने भी नहीं छोड़ा। आज इस सम्मान ने उस घाव को भरने का कार्य किया है। ज्योति ने बताया कि दैनिक जागरण में खबर प्रकाशित होने के बाद देशभर से मीडिया ने उनसे संपर्क किया। प्रशासन के अलावा क्षेत्र के अन्य लोगों ने भी हौसला बढ़ाया। ।

सबसे बड़ी बात यह है ,कि अब दोनों बहनों ने जेंट्स सलून को बंद कर ब्यूटीपार्लर खोलने का अपना फैसला बदल दिया ,सलून पहुचकर दोनों बहनों ने कहा की इस काम ने ही हमे सम्मान और पहचान दिलाई है ,हम ये काम नहीं छोड़ेंगे. इस कहानी को सूनने के बाद कोई ये नहीं कह सकता कि परिवार के बुरे वक्त में सिर्फ बेटे ही सहारा बन सकते है. बेटियां अपनी मेहनत और लगन से हर वो काम कर सकती है जो की एक बेटा कर सकता है ,इन दो बहनों की कहानी और लोगो के लिए भी आगे बड़ने की प्रेरणा बन सकती है.

https://youtu.be/IvmcvGRCins