रामभक्तों के लिए खुशखबरी तिरपाल से हटकर यहाँ विराजमान होंगे रामलला, अब करीब से दर्शन कर सकेंगे भक्त

801

अयोध्या में राम मंदिर बनने को लेकर कवायद तेज हो गयी है. अभी हाल ही में पीएम मोदी ने संसद में लोकसभा सत्र के दौरान मंदिर निर्माण के लिए राम मंदिर ट्रस्ट का ऐलान किया था. जिसके बाद से ही निर्माण कार्य शुरू होने की तैयारियां शुरू हो गयी हैं. अयोध्या रामलाल के मुख्य पुजारी आचार्य सतेन्द्र दास ने कहा है कि महंत नृत्यगोपालदास को राम मंदिर ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाये जाने से व्यवस्थाओं में काफी परिवर्तन आएगा.

जानकारी के लिए बता दें पीएम मोदी द्वारा मंदिर निर्माण के लिए जिस ट्रस्ट का ऐलान किया गया है, उसमें हर वर्ग के लोगों को रखा गया है जिन्होंने इस मुद्दे को लेकर काफी मेहनत भी की थी. वहीं मंदिर निर्माण से पहले एक बहुत बड़ी खबर भक्तों को लेकर आ रही है. अब भक्त प्रभु श्री राम के दर्शन बहुत ही नजदीकी से कर सकेंगे.

मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सतेन्द्र दास ने कहा है कि मंदिर बनने से पहले रामलला ऐसी जगह पर शिफ्ट किये जायेंगे जहाँ उन्हें भक्त नजदीकी से देख सकेंगे. उन्होंने ये भी बताया है कि रामलला के दर्शन के लिए जाने वाले घुमाव को भी अब कम किया जायेगा. जब तक मंदिर का निर्माण कार्य चलेगा तब तक रामलला बुलेटप्रूफ शीशे के मंदिर में विराजेंगे.

गौरतलब है कि मंदिर फाइबर से बना होगा. तिरपाल से हटने के बाद जब रामलला यहाँ विराजेंगे तब मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होगा. श्रद्धालुओं को खुशखबरी देते हुए उन्होंने कहा है कि ‘श्रद्धालु नजदीक से रामलला का दर्शन कर खुश होंगे और फाइबर के मंदिर में बाल्यरूप श्री राम अपने तीनों भाई लक्ष्मण, भरत व शत्रुघन सहित भक्तों को दर्शन देंगे.’