चीन के ग्लोबल टाइम्स ने भारत के आलावा इन बड़े देशो के साथ भी छेड़ा प्रपोगेंडा वॉर

581

लद्दाख के गलवान घाटी में चीन के सैनिकों ने भारत के 20 सैनिक की नि’र्मम तरीके से मा’र दिया था. इतना ही नहीं शी जिनपिंग के निर्देश पर हजारो सैनिक ये ताक लगाए बैठे है की भारत की जमीन पर कब्ज़ा किया जाये. चीन ने ज़मीन के साथ साथ सोशल मीडिया पर भी जं’ग छेड़ रखी हैं.

चीन ने अपनी मिसाइल यानी ग्लोबल टाइम्स को भी मोर्चे पर लगा दिया है. ग्लोबल टाइम पिछले एक महीने से जबसे भारत और चीन के बीच रिश्ते में तनातनी शुरू हुए तबसे उसने सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि अमेरिका,ताइवान के खिलाफ यु’द्ध छेड़ रखा हैं. इस काम के लिए चीन ने ग्लोबल टाइम्स को ये जिम्मा सौंपा हैं. लद्दाख में त’नाव के बाद चीन की प्रोपेगेंडा मशीन ग्‍लोबल ने भारत के खि’लाफ एक तरीके से मनोवैज्ञानिक यु’द्ध छेड़ दिया है.

भारत-चीन तनाव शुरू होने के बाद पिछले एक महीने में ग्‍लोबल टाइम्‍स ने दर्जनों की संख्‍या में ऐसी खबरें लिखी हैं और वीडियो जारी किए हैं. जिससे चीन की ताकत को बढ़ा चढ़ाकर पेश किया जाए और भारत को कमजोर साबित किया जाए. आपको बता दें की चीन सरकार जो चाहती है वही ग्लोबल टाइम्स लिखता है और उसी खबर का चीन सरकार समर्थन करती हैं. उसका कारण है की ग्लोबल टाइम्स चीन का ही है और जो चीन चाहता है वही ग्लोबल टाइम्स लिखता हैं. चीन खुद तो सबसे बड़ा झूठा देश है तो हम ग्लोबल टाइम्स से सच्चाई की उम्मीद नहीं कर सकते हैं और न ही करते हैं.चीन के ग्लोबल टाइम्स ने गलवान घाटी को लेकर भी कई न्यूज़ को छापा है और कई वीडियोस भी डाले हैं सिर्फ प्रपोगेंडा फैलाने के लिए. ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है की गलवान घाटी चीन का इलाका है जिसपर भारत जानबूझकर वहां पर वि’वाद पैदा कर रहा हैं. इस तरह का झूठ चीन का ग्लोबल टाइम्स फैलता रहता हैं.