’15 करोड़ लोग 100 करोड़ पर भारी पड़ेंगे’ बयान देने वाले वारिस पठान पर गिरिराज सिंह का पलटवार

2603

15 फरवरी को एक जनसभा में दिए गए अपने ही ब’यान को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय प्रवक्ता और मुंबई के भायखाला से विधायक रह चुके वारिस पठान बुरी तरह से फंस गए हैं. जिसके बाद से लगातार वारिस पठान वि’पक्षी नेताओं के नि’शाने पर आ गए हैं. जिसकी वजह से वारिस पठान के लिए मुश्किल बढ़ गयी हैं. जिसके बाद उनके खुद के नेता भी उनके खि’लाफ हो गए हैं. जहां एक तरफ बीजेपी संसद गिरिराज सिंह ने इसका वि’रोध किया वहीं दूसरी तरफ RJD के नेता तेजस्वी यादव और एआईएमआईएम चीफ और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भी इसकी आलोचना की हैं और वारिस पठान को फटकार लगायी है

वारिस पठान के बयान पर एमएनएस के प्रवक्ता संदीप देशपांडे ने कहा कि वारिस पठान देश में धार्मिक सद्भाव खराब करने की कोशिश कर रहे हैं और हमारी पार्टी की लाइन क्लियर हैं. पार्टी इस तरह के भेदभाव में भरोसा नहीं करती हैं. लेकिन फिर भी अगर कोई इस तरह की बात करता है तो हम भी पत्थर का जवाब पत्थर से और तलवार का जवाब तलवार से देने के लिए तैयार हैं.

बात दें  बीजेपी सांसद सत्यदेव पचौरी ने वारिस पठान को UP  आने का न्योता भी दे दिया. सत्यदेव पचौरी ने वारिस पठान के ब’यान वाले वीडियो पर ट्वीट करते हुए कहा कि ‘आओ कभी उत्तर प्रदेश में.’ दरअसल पूरा मा’मला कर्नाटक के गुलबर्ग में 15 फरवरी को एक जनसभा का आयोजन किया गया था जिसमें वारिस पठान ने नाम लिए बिना  कहा कि ‘तुम समझ सकते हो कि अगर हम सब एक साथ आ गए तो क्‍या होगा. 15 करोड़ हैं लेकिन 100 करोड़ के ऊपर भारी हैं, यह याद रख लेना.

वारिस पठान के इस बयान पर पुणे में केस दर्ज कर लिया गया हैं जिसके बाद इस बयान ने सियासी तूल पकड़ लिया. वहीं बीजेपी नेता साक्षी महाराज ने भी इस मामले पर अपनी प्रतिकिया जाहिर करते हुये वारिस पठान के बयान की निंदा की. बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने अपने ट्वीट में कहा  ओवैसी के भाई कहते हैं कि 5 मिनट के लिए पुलिस हटा लो 100 करोड़ हिंदुओं को बता देंगे, वारिस पठान कहते हैं कि 15 करोड़ लोग 100 करोड़ पर भारी पड़ेंगे, ओवैसी के मंच से पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगते हैं।’ उन्होंने आगे लिखा कि मैं कांग्रेस, आरजेडी और टुकड़े-टुकड़े गैंग से पूछना चाहता हूं कि क्या ये हिंदुस्तान को पाकिस्तान बनाना चाहते हैं.

गौरतलब हैं वारिस पठान के बयान की वजह से सियासी माहौल गरमा गया हैं. जिसका असर सभी विपक्षी दलों की लगातार आ रही बयान को लेकर प्रतिक्रिया से पता चलता हैं जहाँ RJD के नेता भी इसकी निंदा कर रहे हैं वही बीजेपी के बाकी नेताओं ने भी इसकी घोर निंदा की हैं.