पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड गाजी रशीद ढेर

“आतंकियों ने बहुत बड़ी गलती कर दी है.. और इसका बहुत बुरा अंजाम उनको भुगतना पड़ेगा”


पुलवामा हमले के बाद यह कहते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने आर्मी को खुली छूट दे दी थी… और उस छूट का मान सेना ने बढ़ा दिया.. पुलवामा हमले का पहला बदला आर्मी ने ले लिया है.. रात 12 बजे से पुलवामा के पिन्ग्लिना में लगातार एनकाउंटर चल रहा है जिसमें जैश ए मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए हैं.. ये दो आतंकवादी हैं कामरान और पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड गाजी रशीद.. गाजी रशीद जैश ए मोहम्मद का टॉप कमांडर था और पुलवामा में CRPF पर हुए हमले की साजिश भी उसी ने रची थी.. हमले के बाद कामरान और गाजी रशीद भागने में कामयाब रहे थे जबकि एक आतंकी मोहम्मद आदिल डार आत्मघाती हमले में मारा गया था।
आर्मी को अपने सोर्सेज के जरिये पुलवामा में 5-6 आतंकवादियों के छिपे होने की खबर मिली थी जिसके बाद इस पूरे इलाके को घेर लिया गया और सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया.. सर्च ऑपरेशन की इस टीम में आर्मी, सी आर पी एफ और एसओजी तीनों शामिल हैं.. रात 12 बजे से यहाँ दोनों तरफ से गोलीबारी शामिल है.. बताया जा रहा है कि सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी.. और दुर्भाग्य से इस एनकाउंटर में हमारे चार जवान शहीद हो गए.. शहीद हुए जवानों में मेजर डी. एस. डोंडियाल, हेड कांस्टेबल सेव राम, सिपाही अजय कुमार और सिपाही हरी सिंह शामिल थे.. जिसका बदला सेना ने दो आतंकियों की मौत से ले लिया जिसमें गाजी राशिद शामिल था..

एनकाउंटर के दौरान सीमा ने उस बिल्डिंग को ही बम से उड़ा दिया जिसमें यह आतंकी छिपे हुए थे


पुलवामा हमले की साज़िश रचने वाला यह आतंकी मसूद अजहर के आतंकी संगठन का टॉप कमांडर था और आई ई डी एक्सपर्ट भी.. गाजी ने 2008 में जैश ए मोहम्मद में शामिल हुआ और तालिबान में ट्रेनिंग ली..पिछले साल 9 दिसम्बर को राशीद अपने 2 और सहयोगियों के साथ भारत में घुसा था और तबसे ही दक्षिण कश्मीर में छिपा हुआ है.. भारतीय सेना द्वारा घाटी के 90% प्रतिशत आन्तान्कियों के मारे जाने के बाद जिसमें अधिकतर जैश ए मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के भतीजे थे तो वो अब सारे बड़े हमले राशिद से ही प्लान करवाता था.. ऐसे में राशिद का मारा जाना ना केवल सेना की जीत है बल्कि पूरे हिन्दस्तान की भी जीत है और उम्मीद है जल्द ही सेना घाटी में छिपे सभी आतंकियों की मौत से हमारे एक एक शहीद की मौत का प्रतिशोध ले लेगी

Related Articles

6 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here