विशाखापत्तनम में गै’स ली’क हादसा, शुरूआती जांच में हुआ बड़ा खुलासा

7292

गुरूवार को अचानक विशाखापत्तनम में गै’स ली’क होने से 10 लोगो की मौ’त हो गयी जबकि 300 से अधिक लोगो की हालत अभी भी गं’भीर है. हालाँकि जैसे ही इस घट’ना का पता चला प्रशा’सन में ह’डकं’प मच गया और लोगो को बचाने के लिए स्थानीय प्र’शासन और ने’वी की टीम मौके पर पहुँच गयी और रे’स्क्यू ऑप’रेशन चलाया जा रहा है.

वही शुरूआती जांच में पता चला है कि गै’स ली’क होने का कार’ण गै’स वॉ’ल्व में दि’क्कत आना था. अचानक 2:30 बजे वॉ’ल्व में दि’क्कत आ गयी जिससे गै’स का रिसा’व होने अलग और धीरे धीरे 5 किलो मीटर के एरिया तक गै’स फैल गयी. हालाँकि मा’मले की अभी भी जांच चल रही है.

वही जांच कर रहे अधिकारी ने मा’मले की जानकारी देते हुए कहा कि अभी तक पता चलता है कि गै’स के लिए वॉ’ल्व नियंत्र’ण को ठीक से संभा’ला नहीं गया था और वे फ’ट गए, जिससे रिसा’व हुआ. इसके साथ ही फैक्ट्री के आसपास के इलाकों के स्थानीय ग्रामीणों ने फैक्ट्री का कोई सायर’न नहीं सुना. जिसकी वजह से लोग हा’दसे का शि’कार हो गए है. वही पूरी घट’ना पर अपनी प्र’तिक्रिया देते हुए एलजी के’म ने कहा है कि गै’स रिसा’व की स्थि’ति अब नि’यंत्रण में है और पी’ड़ितों को शी’घ्र उपचार प्र’दान करने के सभी तरीके अपनाए जा रहे हैं. हम माम’ले की जां’च कर रहे हैं ताकि रिसा’व और मौ’तों का स’टीक कारण पता चल सके.

हालाँकि जहरी’ली गै’स का असर बच्चे, बूढ़े और मवेशियों में भी देखा गया. वही जिस वक्त गै’स ली’क हुई उस समय प्लांट में 2000 के करीब मौजूद थे. जब अचानक उनका द’म घु’टने लगा तो सभी लोग अपनी जा’न बचाने के लिए इधर उधर भागे इस दौरान कुछ लोग सड़कों पर ही बेहो’श हो गए तो कुछ लोग ना’लो में जाकर गिर गए. हालाँकि सुबह 10 बजे के करीब इस पर का’बू पा लिया गया है. लेकिन रे’स्क्यू ऑप’रेशन अभी भी जारी है वही इस घट’ना की अं’तिम जांच रि’पोर्ट आना अभी बाकी है.