G-20 समिट में गूंजा मोदी मं’त्र, PM मोदी का जी 20 से निर्णायक का’र्र’वा’ई का आह्वान

76

21 नवंबर से 15वें जी-20 शिखर सम्मेलन का आ’गा’ज हो चुका है. जानकारी के लिए बता दें कि इस सम्मेलन अध्यक्षता सऊदी अरब के किंग सलमान करेंगे. साथ ही इस शिखर सम्मेलन को ‘सभी के लिए 21वीं सदी के अवसरों का एहसास’ विषय पर आयोजित किया जा रहा है. गौ’र’त’ल’ब है कि 21-22 नवंबर तक चलने वाला यह शिखर सम्मेलन व’र्चु’अ’ल होगा.

बता दें कि जी-20 (G20 Summit 2020) देशों की ये इस साल की दूसरी बैठक है. इससे पहले इसी साल मार्च में बैठक हुई थी. इस सम्मेलन का मुख्य मु’द्दा कोरोना म’हा’मा’री से बचाव, भविष्य की स्वास्थ्य से जुड़ी योजनाओं और वै’श्वि’क अर्थव्यवस्था को फिर से एक अच्छी स्थिति देना है. इस सम्मेलन में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि दूनिया में दूसरे विश्व यु’द्ध के बाद कोरोना सबसे बड़ी चुनौती है. उन्होंने इस महामारी के बाद की दुनिया के लिए एक नए वै’श्वि’क सूचकांक का आ’ह्वा’न किया जिसमें चार प्र’मु’ख तत्व शामिल किए.

जिसमें चार प्रमुख तत्व शा’मि’ल हैं – एक विशाल टैलेंट पूल का निर्माण हो जिसमें यह सु’नि’श्चि’त करना कि प्रौद्योगिकी समाज के सभी तबके तक पहुंचे. शासन की प्रणालियों में पारदर्शिता और ट्रस्टीशिप की भावना के साथ धरती माता की सेवा की जाए. इसके आधार पर जी 20 एक नई दुनिया की नींव रख सकता है.

गौरतलब है कि पीएम मोदी ने सऊदी अरब और उसके नेतृत्व को इस साल जी 20 की सफल अध्यक्षता के लिए बधाई दी और इस महामारी द्वारा उत्पन्न चु’नौ’ति’यों और बाधाओं के बा’व’जू’द 2020 में दूसरे जी 20 शिखर सम्मेलन के आयोजन के वर्चुअल आयोजन के लिए भी बधाई दी.