इस वजह से फ्रांस सरकार ने अपने देश में मुस्लिम इमामों के आने पर लगाई रोक

1307

पाकिस्तान आज के समय अपनी काली करतूतों के चलते पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हो गया है. हर कोई जान चुका है कि पाक में किस तरह आ’तंकियों को पाला जाता है और फिर उन्हें आ’तंक फैलाने के लिए भेजा जाता है. आ’तंक फ़ैलाने के चलते दुनियाभर के देश मुसलमानों को लेकर बड़ा कदम उठा रहे हैं. दरअसल इस समय जर्मनी में मुसलमानों को लेकर विरोध-प्रदर्शन चल रहा है. इसी बीच फ्रांस ने बड़ा ऐलान कर दिया है.

जानकारी के लिए बता दें फ्रांस ने अपने देश में विदेशी इमामों के आने पर रोक लगा दी है. बताया जा रहा है कि फ्रांस सरकार के इस कदम के पीछे की वजह ये है कि देश में आ’तंकी गतिविधियों को रोका जा सके. सरकार के इस फ़ैसले पर राष्ट्रपति इमैनुएल ने मुहर भी लगा दी है.

इससे पहले अमेरिका राष्ट्रपति ट्रम्प भी मुसलमानों को लेकर बड़ा कदम उठा चुके हैं. US जाने के लिए हर मुसलमान को वीजा मिलना अब बेहद मुश्किल हो गया है. वहीं फ़्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों प्रेस कांफ्रेंस करते हुए बड़ी बात कह डाली है. उन्होंने कहा है कि हमने 2020 के बाद अपने देश में किसी अन्य देश से आने वाले मुस्लिम इमामों पर रोक लगा दी है.

गौरतलब है कि फ्रांस में हर साल करीब 300 इमाम दुनियाभर के देशों से आते हैं. सरकार के इस फ़ैसले के पीछे की वजह बताते हुए इमैनुएल मैक्रों ने कहा है कि इस कदम के बाद फ्रांस में आतंकी गतिविधियों पर लगाम लगेगी. बता दें फ्रांस में अधिकतर इमाम मोरक्को, तुर्की और अल्जीरिया से आते हैं. यहाँ आने के बाद वह मदरसों में पढ़ाते हैं. उन्होंने कहा है कि हम ये नहीं कहते कि सभी आ’तंकी मुस्लिम ही हो लेकिन ज्यादातर मामलों में इस्लामिक आ’तंक’वाद ही सामने आता है. उन्होंने साफ़ कर दिया है कि इस साल सितंबर के बाद से इमामों के आने पर रोक लग जाएगी.