सुशांत की दोस्त स्मिता ने कहा यह सु’साइड नहीं, टी-शर्ट पर मिले थे जूते के फु’टप्रिंट्स

11

सुशांत सिंह राजपूत की मौ’त के 45 दिन के बाद इस मामले में सुशांत के पिता का ब’यान सामने आने के बाद से मामला उल’झ गया है. दरअसल सुशांत के पिता ने रिया चक्रवर्ती पर आ’रोप लगाये है. जिससे मामले में हर दिन नए नए खुलासे सामने आ रहे है साथ ही अब ये मामला एक अलग ही एं’गल ले चुका है.

वही दूसरी तरफ सुशांत की एक फ्रेंड स्मिता पाटील ने भी एक टीवी चैनल से हुई बातचीत में रिया और सुशांत के रिलेशन’शिप को लेकर काफी कुछ खोलकर रख दिया है. जिसके बाद कई सवाल तो उठी रहे है लेकिन दूसरी तरफ मामला और उ’लझ गया है. दरअसल स्मिता ने बताया कि सुशांत के घर से हैरान कर देने वाले स’बूत मिले हैं, लेकिन उन सभी चीजों की रिपोर्ट्स अब तक सामने नहीं आई है.

इसके अलावा स्मिता ने कहा कि सुशांत ने उनसे कहा था कि अब वे लोग उनके (सुशांत) पीछे आएंगे. जब स्मिता के इस बयान के बारे में पूछा गया कि सुशांत किस लोग के बारे में कह रहे थे तो उन्होंने कहा कि काश मुझे ये पता होता. तो मैं इतने दिनों तक इंतजार नहीं करती. साथ ही ये भी कहा कि मुझे पता है कि उस दिन बहुत सारे सबूत उनके घर में थे, बहुत सारे जर्नल, उनका मोबाइल फोन जो कि सबसे बड़ा सबू’त है. उनके फोन रेकॉ’र्ड्स कॉल और मेसे’जेज की प्रॉ’पर जांच हो तो सच सामने आ सकता है. क्योंकि वह हर चीज लिखता था, जब वह हमारे साथ भी बैठा होता था तो वह बस लिखा करता था. यदि वह खुदकु’शी करता तो 20 पन्ने का लेटर लिख कर जाता.

साथ ही स्मिता ने सबू’तों पर जोर देते हुए कहा कि फॉ’रेंसिक रिपो’र्ट्स आई क्या? वो ग्रीन कपड़ा जो भी था उसकी भी कोई रिपो’र्ट नहीं, जबकि उसके स’हारे कोई ह’ल्का आदमी भी नहीं ल’टक सकता. इसके अलावा बाथरूम से बेल्ट का एक और टु’कड़ा मिला था, उसकी कोई रिपोर्ट नहीं है.  उनके कितने सारे फैन्स ने उनके टीश’र्ट पर जूते के फुट’प्रिंट्स देखे, जिसकी तस्वीरें क्लो’ज़अप में लेकर शेयर की गई हैं, उनकी आंखों और सिर पर जो चो’ट के नि’शान हैं, मुझे समझ नहीं आ रहा कि इन सबके बारे में क्यों नहीं बोला जा रहा है.

जाहिर है स्मिता के इन सभी बातों और सबू’तों पर जोर देने से ये तो साफ़ समझ आ रहा है कि जो लोग उस दिन सुशांत के घर में थे वो उन्हें डि’प्रेशन में दिखाने की कोशिश कर रहे है लेकिन सुशांत के दोस्तों के अनुसार सुशांत डि’प्रेशन में नहीं थे. इसके अलावा जब इस मामले में इतने सारे सवाल उठाये जा रहे है तो उनके आधार पर स्प’ष्ट जांच क्यों नहीं की जा रही है.