कांग्रेस पर आई नई मुसीबत, गुजरात के जिस रिसॉर्ट में अपने विधायकों को छुपाया उस रिसॉर्ट…

राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही. कांग्रेस पहले से ही अपने विधायकों के भगदड़ से परेशान है. अब उसने अपने बचे खुचे विधायकों को बचा कर रखने के लिए जो उपाय अपनाया वो भी उसपर भारी पड़ गई है. गुजरात के राजकोट जिले के जिस रिसॉर्ट में कांग्रेस ने अपने बचे खुचे विधायकों को छुपा कर रखा उस रिसोर्ट के मालिक पर लॉकडाउन उल्लंघन के मामले को लेकर पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है. अब तो कांग्रेस के लिए इधर कुआँ उधर खाई वाली स्थिति है. अगर अपने विधायकों को छुपाएगी नहीं तो वो पार्टी छोड़ कर चले जायेंगे और अगर उन्हें किसी रिसॉर्ट में छुपाएगी तो लॉकडाउन के उल्लंघन के फेर में फंस जायेगी.

कांग्रेस के विधायक राजकोट के निलगिरी रिसोर्ट में ठहरे हुए हैं. हालाँकि होटल और रिसॉर्ट खोलने पर सोमवार तक रोक लगी थी लेकिन नीलसिटी रिजॉर्ट के मालिक और प्रबंधकों ने कांग्रेस के विधायकों को ठहराने के लिए पहले ही रिसोर्ट खोल दिया. रविवार को राजकोट पुलिस ने नीलसिटी रिजॉर्ट के मालिक और प्रबंधक के खिलाफ लॉकडाउन अधिसूचना का उल्लंघन करते हुए कांग्रेस विधायकों के लिए रिजॉर्ट खोलने को लेकर एफआईआर दर्ज की है.

गुजरात में चार सीटों पर राज्यसभा चुनाव होना है. पिछले कुछ दिनों में कांग्रेस के तीन विधायक उसका साथ छोड़ चुके हैं. पहले कांग्रेस को उम्मीद थी कि वो दो सीटें आराम से निकाल लेगी लेकिन जिस तरह से उसके विधायकों में भगदड़ मची उससे उसके एक सीट जीतने परभी आफत आ गई है. इस वक़्त कांग्रेस के पास मात्र 65 विधायक बचे हैं. जब 2017 में गुजरात में विधानसभा चुनाव हुए थे तब कांग्रेस ने 77 सीटें जीती थी और भाजपा को कड़ी टक्कर दी थी लेकिन तीन सालों बाद कांग्रेस के पास मात्र 65 विधायक बचे हैं और पार्टी में भगदड़ मची हुई है. 19 जून को राज्य के चार राज्यसभा सीटों पर वोटिंग होनी है और कांग्रेस की धडकनें तेज है.

Related Articles