द चौपाल https://thechaupal.com Fri, 05 Jun 2020 15:21:56 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=5.4.1 कोरोना के इलाज में भारत की दवा को बताया था ख’तरना’क, अब इस रिसर्च को लिखने वाले लेखकों ने मांगी माफ़ी https://thechaupal.com/study-on-hydroxy-chloroquine-withdrawn-by-writters/ Fri, 05 Jun 2020 15:11:37 +0000 https://thechaupal.com/?p=32582 चीन से मिलीभगत के आरोपों के बीच WHO ने कोरोना के इलाज में भारत की गेमचेंजर दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के ट्रायल पर रोक लगा दिया था. WHO ने ये कदम एक पत्रिका द लैंसेट में प्रकाशित एक रिपोर्ट के आधार पर उठाया था, जिसमे दावा किया गया था कि हाइ’ड्रोक्सी’क्लो’रोक्वीन से मरीजों को फायदा होने की बजाये नु’कसा’न हो रहा है. द लैंसेट ऐसी मैगजीन है जो स्वास्थ्य के क्षेत्र में दुनियाभर के रिसर्च प्रकाशित करती है. भारत और चीन के बीच बॉर्डर पर त’नाव के दौरान WHO के इस कदम को लोग WHO और चीन के बीच सांठ-गाँठ के तौर पर देखा जा रहा था. अब इस मामले में नया मोड़ आ गया है. इस तथाकथित रिसर्च आर्टिकल को वापस ले लिया गया है.

द गार्डियन की रिपोर्ट के अनुसार इस रिसर्च आर्टिकल को लिखने वाले तीन लेखकों ने कहा है कि वो इस बात की सत्यता को प्रमाणित नहीं कर सकते कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के इस्तेमाल से मरीजों पर बुरा प्रभाव पड़ता है. उन्होंने कहा कि अपनी स्टडी को प्रमाणित करने के लिए हमारे पास कोई डाटा या प्रूफ नहीं है. क्योंकि डाटा देने वाली कंपनी सर्जीफेयर ने इस स्टडी के डाटा की निष्पक्ष समीक्षा करने से इनकार कर दिया है. जब इस रिपोर्ट को लैंसेट मैगजीन ने प्रकाशित किया था तब उसमे कहा गया था कि हाइ’ड्रोक्सी’क्लो’रोक्वीन (HCQ) लेने वाले कोरोना मरीजों के मौ-त की संख्या HCQ नहीं लेने वाले मरीजों की संख्या में ज्यादा है. WHO ने हाइ’ड्रोक्सी’क्लो’रोक्वीन (HCQ) समेत तीन और दवाओं का रैंडमाइज्ड ट्रायल शुरू किया था. उसके बाद WHO ने हाइ’ड्रोक्सी’क्लो’रोक्वीन के ट्रायल पर रोक लगा दी.

जब पूरी दुनिया कोरोना से त्रस्त थी तब भारत ने कई देशों में म’लेरि’या की दवा हाइ’ड्रोक्सी’क्लोरो’क्वीन की सप्लाई की. कई देशों का कहना था कि ये दवा कोरोना के इ’लाज में कारगर सिद्ध हो रही है. भारत ने दुनिया भर में ये दवा भेजी और कई देशों इसके लिए पीएम मोदी और भारत की तारीफों के पुल बाँध दिए. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने तो इसे गेमचेंजर बताया था. अब लैंसेट में इस दवाके खिलाफ आर्टिकल लिखने वाले तीनों लेखकों ने माफ़ी मांगते हुए कहा है, ‘हम संपादकों और पाठकों को हुई किसी भी असुविधा के लिए क्षमा मांगते हैं.’

]]>
LAC पर भारत से बातचीत करने से पहले चीन ने चली ये बड़ी चाल https://thechaupal.com/lac-and-china-india-border-issue/ Fri, 05 Jun 2020 14:46:23 +0000 https://thechaupal.com/?p=32576 एक तरफ भारत और चीन के बीच लद्दाख सीमा को लेकर दिन पर दिन तना’व बढ़ता जा रहा है. वही दूसरी तरफ चीन ने एक और ह’रकत कर दी है. दरअसल चीन लगातार भारत द्वारा लद्दाख सीमा पर बनाई किये जा रहे  सड़क निर्माण को लेकर विरो’ध कर रहा है जिस पर भारत चीन की एक नहीं सुन रहा जिससे चीन पाग’ल कु’त्ते की तरफ बौख’ला गया और हर दिन कोई न कोई चाल रहा है.

वही चीन ने अब पूर्वी लद्दाख में वर्तमान स्थिति को देखते हुए नए कमान्डर की नि’युक्ति कर दी है. जो एक जून को की गयी थी. जिसके मुताबिक लेफ्टिनेंट जनरल शू किलियांग को पीएलए के पश्चिमी थिएटर कमांड ग्राउंड फोर्स का नया कमांडर बनाया गया है.

बता दें भारतीय सीमा पर कमांड की जिम्मेदारी और ये चीन की पांच थिएटर कमांड में सबसे बड़ी है. हालाँकि चीन के इस कदम को बड़ी रणनीति के तौर पर देखा जा रहा है. जिसके चलते चीन ने नए कमांडर की नियु’क्ति की है. इससे पहले इसी पद पर पूर्वी थिएटर कमांड में तै’नात थे.

जाहिर है दोनों देशो के बेच करीब एक महीने से तना’व बना हुआ है. जिसकी वजह से सीमा पर दोनों ही देशों की सेनाये भी तैना’त की हुई है. वही चीन की तरफ से हर दिन नए नए ब’यान जारी किये जाते रहते है. लेकिन उसकी हरक’तों से साफ़ जा’हिर होता है कि चीन किसी बड़ी साजि’श को अंजाम देने की फ़ि’राक में बैठा हुआ है.

]]>
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से पूछा गया कि क्या 2022 में कांग्रेस के साथ आएंगे प्रशांत किशोर? तो मिला ये जवाब https://thechaupal.com/caption-amrinder-singh-on-prashant-kishor/ Fri, 05 Jun 2020 14:46:01 +0000 https://thechaupal.com/?p=32574 देश में एक तरफ कोरोना का कहर थम नही रहा है वहीँ दूसरी ओर राजनीतिक गलियारों में भी हलचल मची हुई है. मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिरने के बाद उपचुनाव को लेकर दोनों पार्टियों ने कमर कस ली है. पूर्व सीएम कमलनाथ ने इस चुनाव को जीतने के लिए कई पूर्व मंत्री को मैदान में प्रचार-प्रसार के लिए उतार दिया है तो दूसरी ओर कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए सिंधिया और उनके समर्थक भी प्रचार में लग गये हैं.

जानकारी के लिए बता दें मध्यप्रदेश में होने वाले उपचुनाव को लेकर खबर आई थी कि प्रशांत किशोर इस चुनाव में कांग्रेस का साथ देकर रणनीति तय कर सकते हैं. जिसके बाद प्रशांत किशोर ने इन खबरों को ख़ारिज करते हुए कहा एमपी में होने वाले इन चुनावों में वो किसी तरह के काम के लिए तैयारी नहीं की है. वहीँ दूसरी ओर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से भी प्रशांत किशोर को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने बड़ी बात कही.

दरअसल पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह से पूछा गया कि पंजाब में 2022 में होने वाले चुनावों में क्या प्रशांत किशोर कांग्रेस के साथ आयेंगे? तो इसके जवाब में उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर ने यह बात कही कि उन्हें साथ आने में और मदद करने में काफी ख़ुशी होगी. मैंने इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी से भी चर्चा की. तो उन्होंने 2022 पंजाब विधानसभा में प्रशांत किशोर को साथ रखने का निर्णय मुझपर छोड़ दिया है.

गौरतलब है कि प्रशांत किशोर को राजनीति का मशहूर रणनीतिकार कहा जाता है. वहीँ पंजाब की राजनीति में प्रशांत किशोर को लेकर कयासों का बाजार तेजी से गर्म हो गया था. पंजाब में अटकलें चल रही हैं कि प्रशांत किशोर पंजाब सरकार के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के संपर्क में हैं और उन्हें आम आदमी पार्टी में लाने के लिए प्रयास कर रहे हैं. खबरें ये तक आ रही है कि कोरोना संक्रमण खत्म होने के बाद अरविंद केजरीवाल और नवजोत सिंह सिद्धू मुलाकात कर सकते हैं. ऐसे में प्रशांत किशोर सिद्धू को आप पार्टी में ले जाने में कामयाब हो जाते हैं तो ये कांग्रेस को बड़ा झटका हो सकता है क्योंकि इससे पहले भी वो एमपी में होने वाले चुनाव में साथ आने की बात से साफ़ इंकार कर चुके हैं.

]]>
चीन की इस बड़ी हरकत का हुआ खुलासा, LAC पर कर रहा था इतने दिनों से… https://thechaupal.com/lac-and-india-china/ Fri, 05 Jun 2020 14:07:54 +0000 https://thechaupal.com/?p=32565 भारत और चीन के बीच लद्दाख सीमा को लेकर करीब महीने से लगातार तना’व की स्थिति बनी हुई है. जहाँ एक तरफ चीन सीमा पर लगातार अपनी सै’न्य ताक’त को बढ़ाता जा रहा है वही दूसरी तरफ चीन ये कहता है कि सीमा पर हाला’त ठीक है और वो हर विषय पर बात करने के लिए तैयार है. एक तरफ चीन का ऐसा ब’र्ताव बड़ी चिंता का विषय बनता जा रहा है.

वही सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक चीन की इन हरकतों को सबसे पहले अप्रैल महीने में देखा गया था. दरअसल लद्दाख में भारत के सड़क निर्माण की प्रतिक्रिया चीन की तुरंत की नहीं थी, बल्कि इसकी तैयारी वह मध्य अप्रैल से ही कर रहा था. यानी 5 मई को हुई झड़’प से करीब 14 दिन पहले. वही 5 मई को दोनों देशों के सैनिकों के बीच झ’ड़प हुई थी. जिसके बाद से ही चीन ने अपनी सेना बढ़ाना शुरू कर दिया था. जिसके जवाब में भारत की तरफ से भी सीमा पर अपनी सेना बढ़ायी गयी थी.

इसके अलावा बता दें जिन क्षेत्रों को संवे’दनशील माना जा रहा है.  वे लद्दाख का पैंगोंग त्सो और गलवान घाटी क्षेत्र के तीन अन्य स्पॉट शामिल हैं. गलवान घाटी क्षेत्र में ही दोनों देशों की सेनाओं के बीच तना’व की स्थिति है. दरअसल भारत लद्दाख में जहाँ सड़क बना रहा है. चीन उसी का विरो’ध कर रहा है. और दोनों देशों के बीच इसी वजह से लगातार त’नाव बढ़ता जा रहा है. जिसके लिए चीन हर दिन अपनी नयी नयी चाल रहा है.

]]>
सोनू सूद ने फिर दिखाई दरियादिली, उत्तराखंड के मजदूरों को बस नहीं बल्कि ऐसे पहुंचाया देहरादून ! https://thechaupal.com/sonu-sood-airlifted-55-people-in-uttrakhand/ Fri, 05 Jun 2020 14:05:38 +0000 https://thechaupal.com/?p=32563 देश में कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नही ले रहा है. हर दिन मरीजों की संख्या जबरदस्त बढ़ रही है. कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या भारत में अब 2 लाख 27 हजार से ज्यादा पहुंच गयी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस महामारी के चलते लॉकडाउन को 30 जून तक जारी करने का फैसला लिया था. वहीं इन दिनों सोशल मीडिया पर बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद छाए हुए हैं.

जानकारी के लिए बता दें फिल्मों में विलेन का रोल करने वाले सोनू सूद इन दिनों सच मानें तो लाइफ रियल हीरो का रोल अदा कर रहे हैं. वह महाराष्ट्र में फंसे प्रवासी मजदूरों के लिए इस समय मसीहा साबित हो रहे हैं. सोशल मीडिया पर लोगों की गुहार के बाद ही वो उन्हें उनके घर तक पहुंचाने का काम कर रहे हैं. इसी बीच अब सोनू सूद को लेकर ऐसी खबर आ रही है कि आप भी उन्हें सलाम करेंगे.

दरअसल सोनू सूद महाराष्ट्र में फंसे लोगों को उनके घर तक पहुँचाने के लिए इतना शानदार काम कर रहे हैं कि कोई सोच भी नहीं सकता है. उनकी पूरी टीम लोगों की मदद करने में लगी हुई है. अभी तक तो वो मजदूरों को बस के द्वारा उनके घर तक पहुंचा रहे थे लेकिन अब वो लोगों को हवाई जहाज के माध्यम से भी उन्हें उनकी मंजिल तक पहुंचा रहे हैं. सोनू सूद ने मुंबई में फंसे उत्तराखंड के प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुँचाने के लिए बड़ा कदम उठाया.

गौरतलब है कि सोनू सूद ने उत्तराखंड के करीब 55 लोगों को अपने खर्चे पर एयरलिफ्ट कर देहरादून पहुंचाया है. जिसमें से कई लोग बागेश्वर के भी थे. इतना ही नहीं वहीँ कौथिग फाउंडेशन मुंबई में फंसे हजारों मजदूरों के लिए खाने-पीने का भी इंतजाम कर रही है. सबसे ख़ास बात ये है कि सोनू सूद ने घर से एयरपोर्ट तक लाने के लिए भी गाड़ियों का इंतजाम खुद किया था. घर पहुंचने वाले लोग सोनू सूद के साथ सेल्फी लेकर उनके लिए दुआएं कर रहे हैं. इस महामारी के चलते सोनू सूद के इस नेक काम की हर तरफ तारीफ़ हो रही है.

]]>
सुरक्षाबलों ने अनंतनाग इलाके में आतं’कियों की एक और ना’पाक सा’जिश को किया ना’काम https://thechaupal.com/jammu-kashmir-area-and-crpf/ Fri, 05 Jun 2020 13:43:48 +0000 https://thechaupal.com/?p=32557 जम्मू कश्मीर में आज एक बड़े आतं’की ह’मले को करने की कोशिश की गयी थी. जिसे सुरक्षाबलों ने नाका’म कर दिया. हालाँकि जानकारी मिलने के बाद इलाके में हड’कंप मच गया था. लेकिन इस मामले में सुरक्षाबल को बड़ी कामयाबी मिली है.

दरअसल यह घ’टना जम्मू कश्मीर के अनंतनाग के पहाड़ी इलाके की है. जहाँ पर आतं’कियों ने पुलवामा जैसे हम’ले के इरा’दे से रॉके’ट  रखा था. जिस पर सुरक्षाबल ने इलाके में ग’स्त के बाद रॉके’ट को डिफ्यू’ज कर दिया.  इससे पहले भी सेना को दो दिन पहले इलाके में भारी संख्या में विस्फो’टक मिला था. बता दें आ’तंकी एक बार फिर घाटी में पुलवामा जैसे  हम’ले को दोह’राने की फ़िरा’क में है. जिस पर अब सुरक्षाबलों ने उनकी नापा’क साजि’श को नाका’म कर दिया है.

वही इलाके को खाली करा लिया गया है और सुरक्षाबलों द्वारा ध्यान रखा जा रहा है कि किसी भी तरीके की क्ष’ति न हो. इसके अलावा बताया जा रहा है कि जिस जगह पर रॉकेट रखा गया था. वो मुख्य मार्ग है. और सुरक्षा एजेंसी से मिली जानकारी के मुताबिक बीते दिनों में बड़े आतंक’वादियों के मा’रे जाने से सीमापार बैठे उनके आका’ओं में बेचैनी है. आईईडी और अन्य विस्फो’टक बरा’मद होते रहते हैं लेकिन रॉके’ट को बराम’द कर लेना एक बड़ी कामयाबी है.

जाहिर है आतं’की संगठन इस समय भारत के ऊपर अपनी पूरी नज़र रखे हुए है ताकि किसी भी तरह देश में तना’व का माहौल और दहश’त फैला सके. जिसके लिए बार बार उनकी तरफ दे नापा’क सा’जिशों को अंजा’म दिया जा रहा है. हालाँकि सुरक्षाबलों द्वारा हर बार की तरफ इस बार भी इसे असफल कर दिया गया.

]]>
झारखण्ड सरकार ने चीन से तनाव के मद्देनज़र लद्दाख में सड़क निर्माण के लिए मजदूर भेजने से किया इनकार, उठे सवाल https://thechaupal.com/jharkhand-governmen-sas-will-not-send-labours-in-laddakh/ Fri, 05 Jun 2020 13:41:59 +0000 https://thechaupal.com/?p=32552 दुनिया के किसी भी देश में जब सीमा पर दुश्मन देश के साथ तनाव की स्थिति होती है तो उस देश का हर नागरिक अपने देश और देश की सरकार के साथ खड़ा होता है. लेकिन भारत में ऐसा नहीं है. भारत में राजनीति पहले है. लद्दाख में चीन के साथ तनाव के माहौल में झारखण्ड की झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस की गठबंधन सरकार ने एक ऐसा फैसला किया है जिससे किसी को भी आश्चर्य हो सकता है और साथ ही साथ शर्मिंदगी भी हो सकती है.

लद्दाख में चीन के साथ तनाव के मद्देनज़र LAC के आसपास भारत सड़क निर्माण कर रहा है और इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित कर रहा है ताकि आपात स्थिति में सेना और सैनिक साजोसामान का मूवमेंट तेजी से हो सके. इसके लिए भारी संख्या में मजदूरों की आवश्यकता है. लेकिन झारखण्ड की झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस की गठबंधन सरकार ने तनाव की स्थिति को देखते हुए अपने राज्य से मजदूर भेजने से साफ़ मना कर दिया है.

झारखंड के श्रममंत्री सत्‍यानंद भोक्‍ता ने कहा है कि जब बॉर्डर पर हालात ठीक नहीं होते हैं तब तक वे किसी मजदूर को सीमावर्ती इलाके में काम करने के लिए नहीं भेज सकते हैं. उन्होंने कहा कि सीमा पर तनाव ख़त्म होने तक वो अपने राज्य से एक भी मजदूर को लद्दाख नहीं भेजेंगे. उन्होंने कहा कि सभी मजदूरों को झारखण्ड में ही रोजगार मुहैया कराया जाएगा.

बॉर्डर इलाकों में बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन (BRO) रोड निर्माण कर रही है. सीमाई इलाकों में निर्माण कार्य के लिए स्किल्ड मजदूरों की जरूरत होती है. झारखण्ड के दुमका जिले के मजदूर बहुत ही अधिक संख्या में लेह लद्दाख में सड़क निर्माण कार्य से जुड़े हुए हैं. जब लॉकडाउन लगा तो झारखण्ड सरकार ने फ्लाइट से सभी मजदूरों को लेह लद्दाख से वापस बुलवा लिया. लेकिन अब वापस भेजने से मना कर दिया है. झारखण्ड सरकार के इस फैसले पर अब सवाल उठने लगे हैं. सवाल उठा रहे हैं कि जब देश को जरूरत है, सीमा पर तनाव की स्थिति है तब झारखण्ड सरकार ऐसा फैसला कैसे कर सकती है.

]]>
सीता माँ पर अ’भद्र टिप्पणी करना पड़ा भारी, इस एयरलाइन्स ने अपने कर्मचारी को निकाला नौकरी से https://thechaupal.com/goair-air-lines-and-users/ Fri, 05 Jun 2020 13:12:51 +0000 https://thechaupal.com/?p=32551 हमारा देश अपनी सभ्य’ता और सं’स्कृति के लिए जाना जाता है. जहाँ पर देवी देवताओं को काफी ज्यादा पूजा जाता है. ऐसे में सीतामाँ का कोई अप’मान करे. तो ये जरा भी सहनीय नहीं है. दरअसल अभी कुछ दिनों पहले ही एक मामला सामने आया था. जिसमें एक व्यक्ति ने सीता माँ पर अ’भद्र टि’प्पणी कर दी थी. जिस पर देश के लोगो में काफी ज्यादा गु’स्सा देखने को मिला.

बता दें गोएयर के कर्मचारी आशिफ खान ने सीता माता को लेकर ट्विटर पर अ’श्लील टिप्प’णी की थी. जिसके बाद सोशल मीडिया पर boycott goair ट्रेंड करने लगा. जिसके बाद एक यूजर सोनम महाजन ने गोएयर को टै’ग कर लिखा कि क्या आसिफ खान आपका कर्मचारी है.  जैसा कि उसने ट्विटर पर अपने बायो में लिखा है. यदि वह आपका कर्मचारी है और आपने उसे नहीं निकाला तो इसका मतलब होगा कि आप हिंदू ध’र्म के प्रति नफरत को बढ़ावा दे रहे हैं.

जिसके बाद ट्विटर पर लगातार ट्रें’ड कर रहे boycott goair को देखते हुए कंपनी ने उस कर्मचारी को निकल दिया.  वही लोगो में इसके खि’लाफ बढ़ते गुस्से को देखते हुए आसिफ ने अपना अकाउंट डि’एक्टिवेट कर दिया. बता दें लोगो ने इस मामले पर स’ख्त कार्यवाई की मांग की. जिस पर कंपनी ने कार्यवाई करते हुए ट्वीट कर लिखा कि गोएयर की जीरो टॉ’लरेंस पॉलि’सी है और सभी गोएयर कर्मचारियों के लिए कंपनी में नि’युक्ति के नियम, का’यदे और नीति, जिसमें सोशल मीडिया का व्यवहार भी शामिल है, का पालन करना अनि’वार्य है. किसी व्यक्ति या कर्मचारी के निजी विचार का कंपनी से वास्ता नहीं है. ट्रेनी फर्स्ट ऑफिसर आसिफ खान का कॉन्ट्रै’क्ट तत्का’ल प्र’भाव से ख’त्म किया जा रहा है.

जाहिर है इस तरह के विचार ही लोगो के मन में किसी भी ध’र्म के लिए भेद’भाव की भावना पैदा करते है और ऐसा करने वालों के ऊपर कार्यवाई की जाना बेहद जरुरी है ताकि कोई भी इस तरीके से किसी भी ध’र्म को लेकर लोगो में नफ’रत न फैला सके.

]]>
फ़ोर्ब्स 100 लिस्ट में शामिल हुआ बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार का नाम, इतने करोड़ की कमाई के साथ किया ये मुकाम हासिल https://thechaupal.com/akshay-kumar-in-forbs-list/ Fri, 05 Jun 2020 12:59:59 +0000 https://thechaupal.com/?p=32540 बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार आज किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. देश में गरीब, किसान और सेना के लोगों की मदद के लिए अक्सर अक्षय कुमार आगे आते रहते हैं और जो भी होता है मदद करते हैं. साथ ही वह सामजिक कार्यों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं. इसी बीच अक्षय कुमार को लेकर ऐसी खबर आ रही है जिसे जानने के बाद उनके फंस ख़ुशी से झूम उठेंगे.

जानकारी के लिए बता दें बॉलीवुड के सुपरस्टार अक्षय कुमार फ़ोर्ब्स में दुनिया की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली 100 हस्तियों की सूची प्रसारित की जाती है. जून 2019 से मई 2020 के दौरान फ़ोर्ब्स की सूची के नाम आ चुके हैं. अक्षय कुमार इस लिस्ट में आने वाले पहले भारतीय हैं. उन्होंने 100 में से 52 वां स्थान प्राप्त किया है. जी हाँ इस लिस्ट में पहला नाम मेकअप मोगुल काइली का है जिनकी अनुमानित कमाई 590 मिलियन डॉलर यानी कि 4453 करोड़ रूपये है.

बॉलीवुड के अभिनेता अक्षय कुमार की अनुमति आय 48.5 मिलियन यानी कि मौटे तौर पर कह सकते हैं 366 करोड़ रूपये है. इससे पहले वो फ़ोर्ब्स की सूची में 33 वें नम्बर पर थे इस बार वो और नीचे खिसक गये हैं. साल 2019 की लिस्टिंग में अक्षय कुमार की कमाई 65 मिलियन डॉलर यानी कि 490 करोड़ रूपये थी. बताया गया है कि कोरोना की वजह से अक्षय कुमार को नुकसान हुआ है.

गौरतलब है कि अक्षय कुमार ने इस बार कई बड़ी कंपनियों के साथ डील की है जिसके बाद उन्हें इस साल सबसे अधिक भुगतान की गयी हस्तियों की सूची में जगह मिली है. कहा जा रहा है कि अमेजन प्राइम वीडियो ने अक्षय की डिजिटल शुरुआत के लिए 10 मिलियन अमेरिकी डॉलर 75 करोड़ रूपये की बड़ी राशि का करार किया है. वहीँ उन्होंने अपनी कई आगमी फिल्मों के लिए भी कई बड़े सौदे किये हैं.

]]>
CM योगी को उनके जन्मदिन पर कुछ इस अंदाज में रामायण के राम ने दी शुभकामनाये https://thechaupal.com/cm-yogi-aaditynath-and-his-happy-birthday/ Fri, 05 Jun 2020 12:22:53 +0000 https://thechaupal.com/?p=32542 जियो हजारो साल… ये लाइन कई लोगो के लिए लिखी जाती है. और आज जन्मदिन है उत्तर प्रदेश के य’शश्वी और तेज़ त’र्रार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जो अपने 48 वें वसंत में प्रवेश कर चुके है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जो हर वक्त प्रदेश को प्र’गति के पथ पर ले जाने के लिए हमेशा प्रयत्नशील रहते है उनको सभी देशवासियों की तरफ से जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाये.

वही CM योगी आदित्यनाथ को उनके जन्मदिन पर रामायण के राम यानी अरुण गोविल ने ट्वीट कर उनके जन्मदिन पर शुभकामनाये दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि संन्यासी से अच्छा राजा कोई और नहीं हो सकता’ रामायण के इस क’थन को चरि’तार्थ करने वाले य’शस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को जन्मदिवस की आ’त्मीय शुभकामनाएं. इसके साथ ही उनके इस tweet कर लोगों ने भी CM योगी आदित्यनाथ को बधाई दी साथ ही अरुण गोविल की बात को सही भी बताया.

बता दें योगी आदित्यनाथ ने अपने 3 साल के कार्यकाल में UP में कई बड़े बड़े कार्य किये है और आज भी वो प्रदेश में लगातार कोरोना के सं’क्रमण को कम करने और लोगो को राहत देने के लिए हर मु’मकिन कोशिश कर रहे है. एक बेहतर मंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ को लोग काफी पसंद भी करते है यही कारण है कि आज UP में बाकी राज्य से बेहतर स्थिति है.

]]>