अब हाईवे पर बिना रोकटोक के सरपट दौड़ेगी आपकी गाड़ी, बिना फ़ास्टैग के हाईवे पर बैन

64

अगर आप नेशनल हाईवे पर यात्रा कर रहे होंगे तो आपने देखा होगा कि आपको बार बार ब्रेक लगाना पड़ता है क्योंकि आपको टोल भरना होता है.. अगर आप लंबी दूरी की यात्रा कर रहे हैं तो आपको कम से कम चार से पांच जगहों पर पर आपको रूककर टैक्स भरना पड़ता है. टैक्स भरने के लिए टोल टैक्स पर लाइन भी लग जाती है और टाइम भी लगता है. ऐसे में अब केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने बड़ी राहत दी है.

दरअसल एक दिसंबर 2019 से सभी राजमार्गों पर स्थित टोल प्लाजा की सभी लेन फास्टैग से जुड़ेंगी. केंद्रीय परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने इसको लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि 1 दिसंबर 2019 से टोल प्लाजा में फास्टैग अनिवार्य किया गया है. फिलहाल फास्टैग फ्री में लगाया जा रहा है. फास्टैग की सिक्योरिटी कीमत 150 रुपये है लेकिन 1 दिसंबर तक फ्री में दिया जाएगा. केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि 150 रूपये के सेक्युरिटी का पैसा सरकार दे रही है. देश के राज्यमार्गों में 527 टोल प्लाजा में से 380 को टोल प्लाजा के सभी लेन को फ़ास्टैग से लैस कर दिया गया है.

आइये हम आपको बताते है कि आखिर फ़ास्टैग है क्या?

दरअसल फ़ास्टैग एक प्रीपेड टैग सुविधा है. जिससे आप बिना टोल प्लाजा पर बिना रुके और समय गंवाएं टोल प्लाजा को पार आकर सकते है. फ़ास्टैग रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन का इस्तेमाल किया जाता है. एक बार आपका फ़ास्टैग एक्टिव हो जाये तो आप इसे अपनी गाडी पर लगा सकते है और टोल प्लाजा पर पहुँचते nhai के पेमेंट से लिंक किय यज्ञे अकाउंट से टोल का पैसा काट लिया जायेगा. फ़ास्टैग  के बारे में जानकारी 1033 से ली जा सकती है. दिल्ली एनसीआर के 50 पेट्रोल पंप पर फ़ास्टैग उपलब्ध करवाए जा रहे है. इसके अलावा फास्टैग को प्राइवेट सेक्टर के बैंकों से भी खरीद सकते हैं. किसी भी सरकारी बैंक से फास्टैग स्टीकर ऑफलाइन या ऑनलाइन आवेदन करके भी मंगवाया जा सकता है. अपनी कार के लिए आप ऑनलाइन अमेजन, SBI, ICICI, HDFC Axis बैंक और पेटीएम बैंक और IDFC फर्स्ट बैंक से भी ले सकते हैं.

ये कार्ड आप नेशनल हाइवे फीस प्लाजा, रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस, कॉमन सर्विस सेंटर, ट्रांसपोर्ट हब आदि जगहों से ले सकते है. इसके लिए आपको KYC डॉक्यूमेंट, आरसी, पहचान पत्र, पासपोर्ट साइज फोटो की जरूरत होगी. सभी डॉक्यूमेंट्स की ओरिजनल और फोटो कॉपी दोनों की जरूरत होगी.


 हालाँकि एक बात तो सच है कि अगर फ़ास्टैग सफल हो जाता है तो ये वाकई लोगों के बेहद फायदेमंद साबित होगा क्योंकि टोल प्लाजा पर कई जगहों पर लाइनें लग जाती है. इससे तेल और समय दोनों का नुकसान होता है लेकिन अब ऐसा नही होगा. अब आपकी गाडी बिना किसी रुकावट के हाई वे पर सरपट दौडेगी