ये दोनों तस्वीरों का पुलवामा घटना से कोई संबंध नहीं है

देश को सन्न कर देने वाले पुलवामा आतंकी हमले के बाद ..अभी जवानों के शव उनके परिवारों तक पहुंचे भी नहीं.. कि सोशल मीडिया पर फेक न्यूज का दौर एक बार फिर चालू हो गया है…. सोशल मीडिया पर एक दिल दहला देने वाली तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है…इस तस्वीर में एक जला हुआ शव नजर आ रहा है जिसके आस पास सेना के कुछ जवान घेरा बनाए खड़े हैं… और दावा किया जा रहा है कि तस्वीर में नजर आ रही शव पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए एक जवान की है…पर जब हमने इसकी पड़ताल की और पुरानी मीडिया रिपोर्ट्स को चेक किया ..तब हम इस वायरल तस्वीर की सच्चाई तक पहुचे … कि ये जम्मू—कशमीर के पुलवामा से नहीं बल्कि अरुणाचल प्रदेश के तवांग की है .. तस्वीर में बॉडी के पास बड़े कार्ड बोर्ड देखे जा सकते हैं… इसके साथ ही एक तस्वीर और भी सामने आई जिसमें पैक किए बड़े कार्डबोर्ड्स दिखाई दे रहे थे. इस दूसरी तस्वीर को रिवर्स सर्च करने पर हमें पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का एक ट्वीट मिला.

दोनों तस्वीरें 6 अक्टूबर 2017 को अरुणाचल प्रदेश के तवांग में हुए इंडियन एयरफोर्स के एमआई 17 हेलीकॉप्टर क्रैश की हैं… इस हादसे में हेलीकॉप्टर में सवार सभी सातों जवान शहीद हो गए थे….यानी ये वायरल तस्वीर का दावा पूरी तरह गलत है…. वही दूसरा वायरल मामला एक रोती हुई बच्ची की तस्वीर से जुड़ा है… वायरल हुई तस्वीर को पुलवामा हमले में शहीद जवान की बेटी बताया जा रहा है… लेकिन जब इसकी पड़ताल हमने शुरू कि तो ये फोटो एक कश्मीरी बच्ची ज़ोहरा का निकला …आठ साल की ज़ोहरा के पिता, 2017 में अनंतनाग में हुए एक आतंकी हमले में शहीद हुए थे…. बच्ची बिलखती हुई स्कूल से घर पहुंची थी जब उसको अपने पिता की मौत की खबर मिली थी… उसके के हाथों में मेहंदी रची थी क्योंकि तब उसकी बड़ी बहन की शादी होनेवाली थी… ज़ोहरा के पिता अब्दुल रशीद पीर, जम्मू कश्मीर पुलिस में कार्यरत थे और अनंतनाग में आतंकियों की गोली से शहीद हुए थे.

रोती हुई बच्ची की तस्वीर लोगों के दिलों को छू गई थी …और उसके क्रिकेटर गौतम गंभीर ने उसकी की पढ़ाई का ज़िम्मा ले लिया था… तो हम एक बार फिर बता दें कि वायरल तस्वीर शहीद की बच्ची की जरुर है …लेकिन उसका पुलवामा हमले से कोई नाता नहीं है… एक तरफ जहाँ पुलवामा आतंकी हमले के बाद से ही लोग इंटरनेट पर तरह-तरह का झूठ फैलाने में जुटे हैं…वही दूसरी तरफ CRPF अपनी एक पोस्ट में कहा है कुछ बदमाश किस्म के लोग हमरे जवानों की और उनके अंगो की नकली तस्वीरें फैला रहे है …कृपया ऐसी तस्वीरों को न पोस्ट करे…ना शेयर करे..ना लाइक करे ..बल्कि दी गई साईट पर रिपोर्ट करे..चलते चलते मै भी आप से यही कहना चाहूंगी ..कि जिम्मेदार नागरिक के नाते ऐसी कोई भी तस्वीर शेयर या पोस्ट ना करे …जिसकी फेक होने की कोई भी आशंका हो ..क्यों की धीरे धीरे ये फेक न्यूज़ आग की तरह फैलती ही जाएगी

Related Articles

23 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here