मध्यप्रदेश में सियासी हलचल के बाद बीजेपी ने आखिरकार अपनी सरकार बना ली है. शिवराज सिंह ने चौथी बार एमपी में सीएम पद की शपथ ले ली है. सिंधिया के बीजेपी में जाने के बाद उनके समर्थक 22 विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद से ही एमपी में कांग्रेस की सरकार संकट में आ गयी थी और फिर सुप्रीम कोर्ट ने कमलनाथ को फ्लोर टेस्ट करने के लिए कहा तो उन्होंने फ्लोर टेस्ट से पहले राज्यपाल को अपना इस्तीफा दे दिया.

जानकारी के लिए बता दें एमपी के बाद राज्यसभा चुनावों को लेकर देशभर में सियासी हलचल तेज हो गयी और गुजरात में भी कांग्रेस के 5 विधायकों ने इस्तीफा देते हुए पार्टी को बड़ा झटका दे दिया. दरअसल 26 मार्च को राज्यसभा चुनाव होने थे. जिसके चलते सभी दल अपनी तैयारी में लगे हुए थे. गुजरात में 5 विधायकों के इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस को बड़ा झटका लगा और गुजरात से कांग्रेस की 2 सीटें जीतने की उम्मीदें खत्म हो गयी. अब इसी बीच एक और बड़ी खबर आ रही है.

कोरोना से पूरी दुनिया में फ़ैल रही महामारी को देखते हुए राज्यसभा चुनाव को भी टालने के फैसला लिया गया है. मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग जल्द ही नयी तारीख का ऐलान कर सकती है. 7 राज्यों की 18 राज्यसभा सीटों पर 26 मार्च को मतदान होना था. वहीं कुछ लोगों का ये भी मानना है कि अब देश में कोरोना वायरस की चुनौती खत्म होने के बाद ही चुनाव करवाए जायेंगे.

गौरतलब है कि इस समय कोरोना के चलते केंद्र सरकार और राज्य सरकारें एक के बाद एक बड़ा फैसला ले रही हैं जिससे अन्य लोगों में ये महामारी नही फैले. सरकार लगातार जनता से अपील कर रही है कि वह अपने घरों में ही रहें.