चुनाव आयोग ने जारी किया एक और आ’देश, उ’म्मीदवा’रो को विज्ञापन देने से पहले लेनी होगी अ’नुम’ति, ग’ठित की क’मेटी

32

बिहार में आ’गामी विधानसभा चु’नावो का आ’गाज हो चुका है साथ ही स’त्ता प’क्ष और वि’पक्ष सभी चु’नावी मैदान में उतर आई है और वो’टरों को लुभा’ने के लिए नयी नयी तर’कीब निकालने में लगी हुई है. हालाँकि अभी तक चु’नावो की तारी’खों का ऐ’लान भले नहीं हुआ है. लेकिन बिहार में चु’नावी विगु’ल बजने के बाद बिहार का मौसम और हवा दोनों ही बदल गयी है.

इसी सब के बीच निर्वा’चन आयो’ग ने इस बार के विधानसभा चु’नाव में जनता को बेदा’ग प्रत्या’शियों के चय’न करने की पा’रद’र्शी व्यव’स्था की है. दरअसल आयोग ने इसको लेकर नयी गा’इडला’इन जारी की है और नयी गा’इडला’इन में यह अनि’वार्य किया गया है कि हर वैसे प्र’त्याशी जिनके ऊपर किसी प्रकार का आप’राधि’क मा’मला द’र्ज है वह इसकी सूचना ना’मांकन पत्र में बतायेंगे.

इतना ही नहीं पे’ड न्यू’ज व विज्ञापन पर नजर रखने के लिए मीडिया सर्टि’फि’केशन एंड मॉ’नी’टरिंग कमे’टी से’ल का गठ’न किया गया है. जानकारी के लिए बता दें जिला निर्वा’चन पदा’धि’कारी की अध्य’क्षता में इस क’मेटी का ग’ठन कर दिया गया है. ताकि किसी भी अभ्य’र्थी को इस कमे’टी से रा’जनै’तिक वि’ज्ञापन के प्रसा’रण के पूर्व प्र’माणीक’रण कराना होगा. जिसके बाद प्रका’शित करने के लिए दिया जा सकेगा. इसके साथ ही पे’ड न्यू’ज के पता चलते ही अभ्य’र्थी को नो’टिस किया जायेगा और जवाब मांगा जायेगा. यदि जवाब सही नहीं पाया गया तो का’र्रवा’ई की जायेगी. लेकिन इस सब में खा’स बात यह है कि विज्ञा’पन पर हुए ख’र्च को अभ्य’र्थी के ए’क्सपें’डी’चर रजि’स्टर में शामिल किया जायेगा.