कपिल मिश्रा के विवादित ट्वीट पर चुनाव आयोग का बड़ा एक्शन, दिया ये निर्देश

168

दिल्ली में होने वाले चुनावों से पहले राजनीतिक गलियारों में हलचल तेज हो गयी है. सभी राजनैतिक दलों ने जीतने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है और बयान देने का सिलसिला शुरू हो गया है. ऐसे में आम आदमी पार्टी से बागी हुए करावल नगर से विधायक कपिल मिश्रा ने चुनावों को लेकर कुछ ऐसा बोल दिया जो विवादों में आ गया है. कपिल मिश्रा को आगामी विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने उम्मीदवार बनाया है.

दरअसल कपिल मिश्रा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि 8 फरवरी को दिल्ली की सडकों पर हिंदुस्तान और पाकिस्तान का मुकाबला होगा. उनके इस ट्वीट के बाद विपक्षी पार्टियों ने जमकर हंगामा करते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की थी. जिसके बाद चुनाव आयोग की तरफ से कपिल मिश्रा को नोटिस दे दिया गया और इस ट्वीट को डिलीट करने को कहा गया. चुनाव आयोग के नोटिस कपिल मिश्रा ने जवाब दिया.

उन्होंने अपने जवाब में चुनाव आयोग को लिखा कि मुझे नहीं लगता मैंने कुछ गलत बोला है, सच बोलना इस देश में जुर्म नहीं है मैंने सच बोला और मैं अपने बयान पर अडिग हूँ. अब उनके इस ट्वीट पर चुनाव आयोग ने एक्शन लेते हुए ट्वीटर को इस ट्वीट को हटाने के निर्देश जारी किये हैं.

गौरतलब है कि इससे पहले भी कपिल मिश्रा ने शाहीन बाग़ में हो रहे प्रदर्शन को लेकर कहा था कि ‘पाकिस्तान की एंट्री शाहीन बाग में हो चुकी हैं और दिल्ली में छोटे छोटे पाकिस्तान बनाये जा रहे हैं। शाहीन बाग, चांद बाग, इंद्रलोक में देश का कानून नहीं माना जा रहा है और पाकिस्तानी दंगाइयों का दिल्ली की सड़कों पर कब्जा है।’ आयोग के अधिकारियों ने कहा है कि मिश्रा के विवादित ट्वीट को हटाने के संबंध में दिल्ली मुख्य चुनाव अधिकारी द्वारा चुनाव आयोग को लिखे गये पत्र के बाद यह कार्रवाई सामने आई है. बीजेपी ने कपिल मिश्रा को मॉडल टाउन से प्रत्याशी बनाया है.