दिल्ली के सीएम केजरीवाल की महिलाओं को फ्री डीटीसी बस सेवा की खुल गयी पोल, घाटा इतने हजार करोड़ पहुंचा

1162

दिल्ली में 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव होने हैं जिसको लेकर सभी दल बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और ताबड़तोड़ प्रचार कर रहे हैं. दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल ने चुनावों से पहले दिल्ली की डीटीसी की बसों में महिलाओं के लिए किराया फ्री कर दिया था. अब केजरीवाल इन्ही मुद्दों को लेकर चुनाव जीतने का दावा कर रहे हैं. अब केजरीवाल के ये काम करने से डीटीसी परिचालन को जो घाटा हो रहा है, वो देख आँखें खुली रह जाएँगी.

जानकारी के लिए बता दें वहीं दूसरी ओर बीजेपी आम आदमी पार्टी को शाहीन बाग़ में हो रहे प्रदर्शन को लेकर जिम्मेदार ठहरा रही है और कह रही है कि कांग्रेस और आप पार्टी लगातार जनता को उकसा कर और भड़का कर मजबूर कर रही है. तो वहीं केजरीवाल की फ्री मुफ्तखोरी की योजना की भी पोल खुल गयी है. दिल्ली परिवहन निगम परिचालन का घाटा अब बढ़कर 1750.37 करोड़ रूपये के आंकड़े के पार अनुमान पहुंच गया है.

अभी हाल ही में दिल्ली के उप मुख्यमंत्री ने राज्य विधानसभा में पेश 2018-19 की आर्थिक समीक्षा में यह बात कही गयी कि डीटीसी परिचालन घाटे में है और दिल्ली सरकार वित्तीय सहायता की मदद से घाटे को पूरा करने का प्रयास किया गया है. अगर हम आंकड़ों पर ध्यान दिया जाए तो डीटीसी परिचालन साल 2013-14 में डीटीसी का घाटा 942.89 करोड़ रूपये रहा था.

गौरतलब है कि वित् वर्ष 2010-11 तक दिल्ली सरकार डीटीसी के परिचालन घाटे को पूरा करने के लिए ऋण दिया करती थी लेकिन साल 2011 व्यवस्था में बदलाव हुआ. अब आज की बात की जाये तो केजरीवाल सरकार के नेतृत्व में यह घाटा बढ़कर 1750.37 करोड़ पहुंच गया है.