ट्रंप के भारत दौरे को लेकर कांग्रेस को क्यों लग रही है मिर्ची

886

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दौरे को लेकर घमासान मचा हुआ है. आये दिन कांग्रेस का कोई न कोई नेता डोनाल्ड ट्रंप को लेकर बयानबाजी करते हुए नजर आते है. उनके भारत दौरे को लेकर हर तरफ चर्चा है. ट्रंप के आने को लेकर भारत में तैयारी जोर शोर पर चल रही है. दो दिन पहले कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा था की ‘ट्रंप कोई राम तो नहीं जो इतने लोग उनके स्वागत में खड़े है’. ऐसा कह कर अधार रंजन चौधरा ने भाजपा पर निशाना साधा था.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप खुद भारत आने को लेकर बहुत उत्साहित है और लोगो द्वारा यहां पर होने वाले स्वागत कार्यक्रम को लेकर भी बहुत उत्साहित दिख रहे हैं. डोनाल्ड ट्रंप ने अपने स्वागत में एक करोड़ लोगों के आने का दावा किया है. लेकिन, इन दावों पर कांग्रेस पार्टी ने सवाल खड़े कर दिए हैं. कांग्रेस ने कहा कि आखिर ‘किसके न्योते पर अमेरिकी राष्ट्रपति भारत आ रहे हैं. रणदीप सुरजेवाला ने विदेश मंत्रालय के उस बयान का हवाला दिया है. जिसमें अहमदाबाद का कार्यक्रम किसी निजी संस्था के द्वारा आयोजित किए जाने की बात कही गई है’.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आगे कहा कि ‘नागरिक अभिनंदन समिति कौन है, इसके सदस्य कौन हैं? अगर डोनाल्ड ट्रंप को एक प्राइवेट संगठन द्वारा बुलाया जा रहा है तो गुजरात सरकार इतने करोड़ रुपये क्यों खर्च कर रही है? कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता ने सवाल पूछा कि मोदी सरकार को जवाब देना चाहिए कि अमेरिकी राष्ट्रपति को अहमदाबाद के इवेंट के लिए किसने न्योता दिया है. क्योंकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कहते हैं कि उन्हें नरेंद्र मोदी ने बुलाया है, लेकिन विदेश मंत्रालय कहता है कि ये कोई आधिकारिक कार्यक्रम नहीं है.

दरअसल, एक बात समझ नहीं आ रही है कि क्या कांग्रेस पार्टी के पास अब कोई मुद्दा नहीं है.राजनीति करने के लिए तो ऐसे बेतुके मुद्दे उठा रही है. कांग्रेस पार्टी में इतने बुद्धिजीवी नेता होने के बाद ऐसी उट-पटांग बाते करते है. अब ऐसा लग रहा है की कांग्रेस के आलाकमान से लेकर उसके नेता देश के अन्दर कैसी राजनीति कर रहें  है. क्योकि कांग्रेस पार्टी शायद अब खुद भी कंफ्यूज है की उसको किस मुद्दे पर क्या बोलना है, या किस मुद्दे का विरोध करना है. अब ये उसके समझ से बाहर है. उनके नेताओं के बयानों को देखा जाये तो कांग्रेस के नेता कन्फ्यूज्ड लग रहें है.