देश के सबसे ठण्ड स्थान पर सेना को भेजा गया गर्म पिज्जा! तस्वीरें आई सामने!

386

देश के सैनिक हर हालात से लड़कर देश को सुरक्षित रखते हैं. चाहे वो कितनी भी गर्मी हो या फिर माइनस 0 डिग्री …जवान हमेशा देश की सुरक्षा में तैयार रहते हैं. हाल ही में विश्व ने 26 जनवरी के मौके पर पूरे देश ने सेना और जवानों की ताकत को देखा…लेकिन आज हम आपको जो बताने जा रहे हैं उसे जानकर आप ना सिर्फ हैरान होंगे बल्कि ख़ुशी से झूम भी सकते हैं…
दरअसल दुनिया के सबसे ऊँचे और ठन्डे युद्ध क्षेत्र जहां तापमान 50 डिग्री से भी कम चला जाता है . यहाँ तैनात जवानों को 26 जनवरी को गरमागर्म पिज्जा खाने को मिला. इसकी जानकारी खुद पिज्जा पहुँचाने वाली कम्पनी डोमिनोज ने दी है. डोमिनोज पहुँचाने वाली कम्पनी ने अपने वर्कर और जवानों के साथ तस्वीर शेयर करते हुए लिखा है कि हमें इस बात का गौरव हासिल हुआ है कि हम गर्म पिज्जा अपने उन बहादुर जवानों और अधिकारियों तक पहुंचा सके जो सियाचिन में हमारी हिफाजत के लिए अपनी अनमोल सेवा दे रहे हैं”.


सोशल मीडिया पर डोमिनोज के इस कदम की जमकर तारीफ हो रही हैं. लोग इसे देखकर काफी खुश हैं वहीँ इस तस्वीर में दिख रहे डोमिनोज कर कर्मचारी काफी खुश नजर आ रहे हैं. पिज्जा पाने वाले जवानों की ख़ुशी का अंदाजा तो इन तस्वीरों को देखकर लगाया जा सकता हैं. आपको बता दें कि सियाचिन ग्लेशियर हिमालय की पूर्वी कारोकरम पर्वतमाला में भारत-पाक नियंत्रण रेखा के पास स्थित है जहां तापमान माइनस 50 डिग्री तक पहुँच जाता है.
आप इस वीडियो में देखिये किस तरह जवान ठन्डे तापमान में गर्म पिज्जा खा रहे हैं.
वीडियो देखकर आप भी खुश और हैरान जरुर हुए होंगे… जवानों के जोश को बढाने के लिए डोमिनोज के इस कदम का स्वागत होना चाहिए.
आइये हम आपको दिखाते है कि सोशल मीडिया पर लोग डोमिनोज के इस कदम के बारे में क्या कह रहे हैं.

लोग लोग अपनी अपनी तरह से डोमिनोज को धन्यवाद कह रहे हैं. वहीँ अब सेना के जवानों की ख़ुशी को देखकर पूरे देश को ख़ुशी हो रही हैं. देश की रक्षा करने के लिए सेना के जवान अक्सर ऐसा कुछ करते हैं कि लोगों को दांतों तले ऊँगली दबानी ही पड़ती हैं. सियाचिन पर भारतीय जवान किस स्थिति पर देश की रक्षा करने के लिए खड़े रहते हैं ये तो शायद आपने सुना ही होगा. तीन कदम चलने में जवानों को थकान हो जाती हैं. इसके साथ भयानक ठण्ड का सामना करने के लिए उन्हें विशेष प्रकार के कपडे और सोने के लिए बिस्तर उपलब्ध कराये जाते हैं. यहाँ सिर्फ उन जवानों को ही भेजा जाता हैं जो जवान मानशिक और शारीरिक रूप से बेहद मज़बूत होते हैं. इन जवानों के लिए सभी प्रकार की सुविधाएं बेहद विशेष होती हैं. इन जवानों के पास डोमिनोज का पिज्जा पहुंचा तो ये जवान बेहद खुश नजर आये और अपनी ख़ुशी का इजहार भी किया. डोमिनोज कम्पनी को भी इस कार्य के लिए बेहद सराहना मिल रही हैं. कई लोगों ने यहाँ तक कही दिया है कि डोमिनोज के इस कदम से वे अब हमेशा डोमिनोज का ही उपयोग करेंगे.
जय हिन्द जय जवान