बेंगलुरु में कांग्रेस के बागी विधायकों से मिलने पहुंचे दिग्विजय सिंह के साथ पुलिस ने क्या किया, जानिए

मध्यप्रदेश में सियासी हलचल खत्म होने का नाम नही ले रही है. सिंधिया के बीजेपी में जाने के बाद से ही कमलनाथ सरकार संकट में आ गयी थी. सिंधिया के साथ 22 विधायकों ने भी इस्तीफा देकर कांग्रेस को बड़ा झटका दे दिया था. कांग्रेस पार्टी की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. एक के बाद एक बड़ा झटका राहुल गाँधी को लगता जा रहा है.

जानकारी के लिए बता दें 22 विधायकों के इस्तीफा देने के बाद एमपी में कांग्रेस के विधायकों की संख्या 92 ही रह गयी जोकि बहुमत के लिए कम हैं.वहीं दूसरी ओर शिवराज सिंह चौहान ने 106 विधायकों की लिस्ट राज्यपाल लाल जी टंडन को सौंप दी थी और परेड करवा दी थी. उधर राज्यपाल ने कमलनाथ को भी फ्लोर टेस्ट करने के आदेश दे दिए हैं.

कमलनाथ और दिग्विजय सिंह सरकार बचाने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रहे हैं और हर दिन नया दांव चल रहे हैं. उन्होंने इस्तीफा देने वाले सभी विधायकों को विधानसभा सत्र के दौरान मौजूद रहने को कहा था और सभी के कोरोना टेस्ट करवाने की बात कही थी. इसी बीच एक बड़ी खबर और आ रही है.

गौरतलब है कि कांग्रेस के 21 विधायक बेंगलुरु के रामदा होटल में ठहरे हुए थे दिग्विजय सिंह उनसे मिलने के लिए वहां पहुँचे तो पुलिस ने उन्हें कथित रूप से रोक लिया तो वो वहीं धरने पर बैठ गए जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है.