मुम्बई के धारावी में को’रोना का कहर जारी एक की मौ’त के बाद, फिर आई बुरी खबर

1838

को’रोना जैसी महा’मा’री से पूरा देश जूझ रहा है. वहीं कई देश इसकी चपेट में आ चुके हैं और इस भ’यानक बिमा’री से लड़ रहे हैं. भारत सरकार को’रोना को रोकने का हर भर’सक प्रयास कर रही है. देश के कई राज्यों में तब’लीगी जमा’त ने जो काम किया है. उसको देखते हुए महाराष्ट्र की स्थिति ज्यादा खराब होती जा रही है. वहीं कुछ लोग को लगता है कि को’रोना हमको नही होगा तो हम सड़क पर आराम से घूम सकते है. कुछ ऐसे ही हालात देश की राजधानी दिल्ली के अंदर निजामुद्दीन मरकज के अदंर देखने को मिले है. इस जमा’त की जाहिलियत साफ नज़र आ रही है और इन लोगों ने पीएम मोदी के लॉकडाउन का पूरी तरह से मज़ाक बना डाला है.

देश की माया नगरी कही जाने वाली मुम्बई आज कोरोना जैसी बीमारी से जूझ रही है. आज महाराष्ट्र के घनी आबादी वाले मुंबई के धारावी इलाके में को’रोना संक्रमित मरीज की संख्या आये दिन बढ़ती जा रही है. धारावी में को’रोना की वजह से एक व्यक्ति की मौत होने के बाद, गुरुवार को एक अन्य व्यक्ति वायरस से संक्रमित पाया गया है. बीएमसी में सफाईकर्मी का काम करने वाले व्यक्ति का टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद हजारों झुग्गियों वाले इस इलाके में संक्र’मण का ख’तरा बढ़ गया है.

बृह्नमुंबई नगर निगम (बीएमसी) में काम करने वाले 52 साल के सफाईकर्मी का को’रोना टेस्ट भी पॉजिटिव आया है. बीएमसी के अधिकारियों ने बताया, ‘वह वर्ली का रहने वाला था और सफाई के काम के लिए धारावी में पोस्टेड था. उसके अंदर कोरोना के लक्षण दिखे, जिसके बाद उसे बीएमसी अधिकारियों की तरफ से इलाज कराने की सलाह दी गई. उसकी स्थिति अभी स्थिर बनी हुई है. उसके परिवार के सदस्यों और 23 सहकर्मियों को भी क्वॉरंटीन करने की सलाह दी गई है.’ महाराष्ट्र में अभी तक को’रोना वायरस  के 338 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 9 की मौ’त हो चुकी है.

आज मुंबई की हालत देख कर देश के लोगों को समझना चाहिए की को’रोना पूरे देश में अपना क’हर बर’पा रहा है. उसके बाद भी समय रहते हुए भारत सरकार ने को’रोना की रोकथाम के लिए पहले से ही कई कड़े कदम उठाने शूरु कर दिये थे. कोरोना को देखते हुए पीएम मोदी ने देश के अंदर 21 दिन के लिए पूरी तरह से लॉकडाउन कर दिया था. मुंबई की ये हालत देखते हुए कल पीएम मोदी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे से फोन पर बात करके हालात का जायजा लिया. महाराष्ट्र के लोगो को भी सरकार की बातों को सुना चाहिए और आदेश का पालन करना चाहिए.