विदेशी जमातियों पर दिल्ली पुलिस ने कसा शिकंजा, कोर्ट में दायर की चार्जशीट, लगी है इतनी धाराएँ कि बचना मुश्किल

1364

निजामुद्दीन मरकज और तबलीगी जमात मामले में दिल्ली पुलिस ने विदेशी जमातियों पर शिकंजा कस लिया है. दिल्ली पुलिस ने साकेत कोर्ट में 83 विदेशी जमातियों के खिलाफ चार्जशीट दायर कर दी है. चार्जशीट में इनके खिलाफ 5 अलग अलग धाराओं में मामला दायर किया गया है. दिल्ली पुलिस को ये सब इसलिए करना पड़ा क्योंकि बिना किसी आरोप पत्र के किसी विदेशी को देश में नहीं रोका जा सकता. इसलिए दिल्ली पुलिस ने इनके खिलाफ चार्जशीट दायर कर उनके खिलाफ मजबूत शिकंजा कस दिया है.

इस चार्जशीट में विदेशी जमातियों पर वीजा नियमों का उल्लंघन समेत कई अन्य गंभीर आरोप लगाये गए है. सभी विदेशी जमाती टूरिस्ट वीजा पर भारत आते थे और मजहबी गतिविधियों में शामिल होते थे. इसके अलावा उनपर धारा 144 के उल्लंघन, महामारी ऐक्ट की धारा 217 और धारा 188 के खिलाफ भी आरोप जोड़े गए हैं. दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट इतनी मजबूत बने है कि ये आसानी से भारतीय क़ानून से बच नहीं सकें.

मार्च के महीने म एजब देश में कोरोना पाँव पसार रहा था तब निजामुद्दीन के मरकज़ से 2041 जमातियों को बाहर निकाला गया था. इस मरकज में 67 देशों से जमाती शामिल हुए थे और फिर यहाँ से निकल कर देश के अलग अलग हिस्सों में फ़ैल गए थे जिसके बाद देश में कोरोना का विस्फोट हो गया था. इसके अलावा देश के अलग अलग शेरोन की मस्जिदों में कई विदेशी जमती छुप गए थे जिन्हें पुलिस छापा मार मार कर कई दिनों तक बाहर निकालती रही. दिल्ली में बड़ी तादाद में विदेशी जमाती कोरोना पॉजिटिव मिले. इलाज के बाद उन्हें क्वारंटीन सेंटरों में रखा गया था जिनमें से ज्यादातर से दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच पूछताछ कर चुकी है.