दिल्ली में हार के बाद कांग्रेस में मचा घमासान, बड़े नेता ठहरा रहे हैं एक दूसरे को जिम्मेदार

1245

दिल्ली विधानसभा चुनाव में लगातार दूसरी बार हा’रने के बाद अब कांग्रेस पार्टी में घमासान मच गया हैं. दिल्ली की सत्ता पर एक लंबे समय से अपना स्थान बनाये रखने वाली कांग्रेस पार्टी लगातार दूसरी बार शून्य सीटों के साथ चुनाव में हा’र गयी. जिसके बाद से कांग्रेस पार्टी के बड़े नेता भी अब कांग्रेस को अपनी रणनीति बदलने के लिए बोल रहे हैं. बता दें 2013 के बाद से कांग्रेस पार्टी दिल्ली की सत्ता पर वापसी नहीं कर पायी है. जिसकी वजह से पार्टी के बड़े नेता भी अब पार्टी की रणनीतियों पर सवाल उठा रहे हैं.

पूर्व केंद्रीय मंत्री  ज्योतिरादित्य सिंधिया और हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कांग्रेस पार्टी को अपनी रणनीति और कांग्रेस के पूर्व प्रभारी पीसी चाको पर निशाना साधा हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा की पार्टी को नयी रणनीति बनाने की जरूरत हैं. यह तो साफ़ है लगातार दूसरी बार हा’रने के बाद कांग्रेस के कुछ बड़े नेता इससे भौखला गए हैं. जिसके बाद अब वो अपनी पार्टी को राजनीति में वापसी के लिए सुझाब दे रहे हैं.

बता दें चुनाव में हा’रने के बाद से कांग्रेस के प्रभारी ने इस्तीफा दे दिया साथ ही उन्होंने ये भी कहा की जब शीला दीक्षित मुख्यमंत्री थी तभी से कांग्रेस की दिशा पलट गयी थी. कांग्रेस का सारा वोट बैंक AAP पार्टी के पास चला गया था. और फिर उसके बाद कांग्रेस दुबारा सत्ता में वापसी नहीं कर पायी. वहीं कांग्रेस पार्टी के कुछ नेताओं ने AAP को जीत की बधाई दी और आम आदमी पार्टी के जीतने पर खुशी भी व्यक्त की. जिससे ख’फा कांग्रेस के नेताओं ने इस पर भी सवाल खड़े कर दिए. गौरतलब है कांग्रेस पार्टी को लगातार चुनाव में हा’र का सामना करना पड़ रहा हैं. वहीं पार्टी के कुछ लोग अलग अलग होकर भी चुनाव लड़ रहे थे जिसका खामियाजा भी पार्टी को भुगतना पड़ा.