निर्भया के दो’षियों को लगा एक और झटका, मौ’त की घड़ी आई और पास

3919

निर्भया गैं’गरे’प के’स और ह’त्या के दो’षि’यों की फां’सी 3 मार्च को टल गई थी. तीसरा डे’थ वा’रंट भी ख़ारिज हो गया है. निर्भया के’स के दरिं’दो को कुछ दिन की और मो’हल्ल’’त मिल गई है. निर्भया के’स के चौथे दो’षी पवन ने सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटिशन दायर की थी और उसको सुप्रीम कोर्ट ने ख़ारिज कर दीया है. पवन ने अपनी अ’र्जी में कहा था कि ‘वह घ’टना के वक्त ना’बा’लिग था. इस मामले में उसकी रिव्यू याचिका पहले ही खारिज हो गई थी. 5 जजों की पीठ ने सर्वसम्मति से पवन की या’चि’का को खा’रिज कर दिया है.

इसके साथ ही अब चारों दो’षियों की फां’सी का रास्ता साफ होता दिख रहा है. इससे पहले दिल्ली सरकार ने भी निर्भया मामले में दो’षी पवन की दया याचिका खारिज करने की सिफारिश की थी. इससे पहले सोमवार को गृह मंत्रालय को पवन (25) की दया याचिका मिली थी. मंत्रालय ने यह याचिका राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को उनके विचारार्थ और फैसले के लिये भेजी. दिल्ली की एक अदालत ने सोमवार को 2012 के इस मामले में चारों दो’षियों की फां’सी पर अगले आदेश तक रोक लगा दी थी.

निर्भया के’स में दो’षियों की फां’सी टलने के बाद दिल्ली सरकार ने सोमवार को निर्भया गैं’गरे’प और ह’त्या मामले के चार दो’षियों में से एक पवन गुप्ता द्वारा दायर की गई दया याचिका को खारिज करने की सिफारिश की थी. शायद उसका कारण ये है कि निर्भया की मां दिल्ली सरकार पर ये आ’रोप लगा चुकी है कि उसने निर्भया के दो’षियों की फां’सी ना होने की वजह कहीं ना कहीं दिल्ली सरकार है. दिल्ली सरकार ने गृह मंत्रालय से दया याचिका मिलने के कुछ ही मिनटों के बाद यह सिफारिश की थी.

एक सूत्र ने बताया, ‘दिल्ली सरकार ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज करने की सिफारिश की फाइल अब दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल के पास उनकी अनुशंसा के लिये भेजी जाएगी. इन सबके बीच अब एक बार फिर से निर्भया के’स में दो’षि’यो के फां’सी का वक्त पास आता दिख रहा है. तो अब देखना होगा कि कोर्ट अगली तारीख कब देता है. जिस दिन इन द’रिं’दो को फां’सी के त’ख्ते पर लट’काया जायेगा. लेकिन कहीं ना कहीं अब फां’सी का रास्ता साफ होता दिख रहा है. निर्भया के दो’षियों को कुछ दिन की  मो’हल’त मिल गई है. निर्भया के दोषियों को कुछ दिन बाद फां’सी होना तय है.