कप्तान ने किया बड़ा खुलासा, वर्ल्ड कप में जानबूझकर खराब खेले सीनियर प्लेयर

क्रिकेट वर्ल्ड कप तो खत्म हो चूका है, लेकिन उसकी चर्चाएँ अभी नही थम रही है. वर्ल्ड कप में हिस्सा ले रही सभी टीमें अब अपने अपने घर को लौट चुकी हैं. कुछ अपने आने वाले दौरों की तैयारी में भी लग गयीं हैं. लेकिन एक टीम है जो अंदरूनी कलह से जूझ रही है. वो टीम है अफगानिस्तान, जिस से उम्मीद भले ही बहुत बड़ी नहीं थीं, लेकिन टीम को देखकर ऐसा लग रहा था कि वो कम से कम एक मैच जीतने में तो कामयाब रहेगी ही. लेकिन ऐसा न हो सका और अफगानिस्तान की टीम अपने सभी 9 के 9 मैच हार गयी. इससे भी खराब बात ये हुई कि टीम के अंदर मनमुटाव की बातें अब मिडिया में आ गयी. सबसे पहले तो ओपनर शहजाद ने खुद को पूरी तरह फिट बताते हुए वर्ल्ड कप से बाहर कर देने का आरोप टीम प्रबंधन पर लगाया. उसके बाद वर्ल्ड कप में कप्तान बनाए गए गुलबदीन नईब ने बड़ा खुलासा किया. वर्ल्ड कप में तीन बार ऐसा हुआ जब टीम जीत के करीब पहुंची, लेकिन जीत नहीं सकी. टूर्नामेंट से ठीक पहले कप्तान बनाए गए गुलबदीन को इसका जिम्मेदार माना जा रहा है कि वो अहम समय पर टीम को दबाव और तनाव की परिस्थितियों से उबार नहीं सके. हालांकि नईब ने अब टीम के सीनियर खिलाड़ियों पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं कि उन्होंने मुश्किल समय में उनका साथ नहीं दिया.

ऐसे में जबकि अफगानिस्तान की टीम की कप्तानी अब युवा स्पिनर राशिद खान के हाथों में सौंप दी गई है तो गुलबदीन को कप्तानी से हटाकर तीनों प्रारूपों के लिए राशिद को कप्तान नियुक्त किया गया है.
जब गुलबदीन नईब को वर्ल्ड कप शुरू होने से ठीक पहले ही कप्तान बनाया गया था. तब मोहम्मद नबी और राशिद खान जैसे खिलाड़ियों ने नईब को कप्तान बनाए जाने के फैसले पर निराशा जताई थी. हालांकि वर्ल्ड कप के दौरान नईब ने कोई भी विवादित बयान नहीं दिया, लेकिन अब उन्होंने कई सीनियर खिलाड़ियों पर जानबूझकर खराब खेलने का आरोप मढ़ दिया है. उन्होंने यहां तक कहा कि खिलाड़ी मैच हारने के बाद निराश नहीं दिखते थे बल्कि हंसते हुए नजर आते थे.

नईब ने खुलासा किया कि वर्ल्ड कप के दौरान टीम के सीनियर खिलाड़ी मेरा सहयोग नहीं करते थे. वे जानबूझकर खराब खेले थे और जब मैं गेंदबाजी के लिए कहता था तो मेरी ओर देखते तक नहीं थे. नईब ने हालांकि कहा कि वे लेग स्पिनर और टीम के नए कप्तान राशिद खान को पूरा समर्थन देंगे और इसके लिए आश्वस्त करते हैं. अब देखने वाली बात ये होगी कि अफगानिस्तान क्रिकेट को युवा रशीद खान कितना उपर ले जा पाएंगे.

Related Articles