भारत ने पे’श की दोस्ती की मिसाल, ‘मिशन सागर’ के तहत UAE को भेजी मदद

3633

दुनियाभर में कोरोना का क’हर बरस रहा है ऐसे में भारत ने खुद सं’कट में होते हुए भी एक बेहतर पडोसी और अच्छे मित्र की भूमिका निभाते हुए कई देशो की इस संक’ट के समय में मदद की है. जिसके बाद एक बार फिर भारत ने अपने हाथ मदद के लिए बढ़ाये है. जिससे यह तो साफ़ जाहिर होता है भारत एक ऐसा देश है जहाँ कितनी भी परे’शानी हो वो सं’कट के समय में सभी की मदद के लिए हमेशा आगे रहेगा.

दरअसल इस बार भारत ने संयुक्त अरब अमीरात के लिए अपने मदद के हाथ आगे बढ़ाये है. UAE ने भारत से मदद मांगी है. जिसके बाद भारत ने इस सं’कट के समय में 88 स्वा’स्थ्यकर्मियों को यूएई भेजा है. इसके अलावा भारत ने मालदीव, मॉरीशस, मेडागास्कर, कोमोरोस और सेशेल्स  के द्वारा लगायी गयी कोरोना के बीच मदद की गु’हार पर एक नौसैनिक पोत के माध्यम से इन पांचों देशों को चिकित्सा सहायता भेजी है.

बता दें  नर्स केरल, कर्नाटक और महाराष्ट्र में एस्टर डीएम हेल्थकेयर अस्पतालों से हैं और इन नर्सों को 14 दिन तक क्वारंटी’न रखे जाने के बाद आवश्यकता के अनुसार विभिन्न अस्पतालों में भेजा जायेगा. इसके अलावा विदेश मंत्रालय ने कहा कि कोविड-19 से निपट’ने में मदद के इन देशों के अनु’रोधों के बाद भारत ने भारतीय नौसेना के जल’पोत केसरी को मालदीव, मॉरीशस, मेडागास्कर, कोमोरोस और सेशेल्स के लिए रवाना किया है जिसमें दो चिकित्सा सहायता दल, कोविड-19 से संबंधित आवश्यक दवाओं की खे’प तथा जरूरी खाद्य सामग्री है.

जाहिर है भारत ने इस सं’कट के बीच अपनी मित्रता की बे’हतर मि’शाल का’यम की है. साथ ही इससे आगे भी भारत के मित्र देशों के साथ संबं’ध और रणनी’ति दोनों को ही मज’बूती मिलेगी. साथ ही कोरोना से जं’ग में सभी मिल कर इस महामा’री को ख’त्म करने में सफल होंगे.