कोरोना का खौ’फ भारत में बढ़ता जा रहा है. कोरोना को लेकर भारत में मरीजों की संख्या बढती जा रही है. दिल्ली में एक महिला की मौ’त हो गई है. दिल्ली सरकार ने पहले ही कोरोना के बचाव को लेकर कई कदम उठाये हैं. जिसमें उसने मॉल, स्कूल, कॉलेज सब बंद कर दिये हैं. दिल्ली सरकार ने मेट्रो के राजीव चौक स्टेशन को पूरी तरह से सैनेटाइज किया जा रहा है. उसके बावजूद भी दिल्ली में कोरोना वायरस से एक महिला की मौ’त हो गई है.  

दरअसल दिल्ली में कोरोना वायरस से पहली मौ’त सामने आई है. यहां के आरएमएल अस्पताल में शुक्रवार को 68 साल की महिला की मौ’त हो गई. भारत में अब तक कुल दो लोगों की मौत हो चुकी है. मृ’तक महिला के बेटे ने 5 से 22 फरवरी के बीच स्विट्जरलैंड और इटली का दौरा किया था. मृतक महिला के बेटे का भी इलाज जारी है. आंकड़ों के मुताबिक भारत में कोरोना के कुल 85 पी’ड़ित हैं, इलाज के बाद 10 की हा’लत सुधरी है और अभी भी 73 लोगों के कोरोना पीड़ित होने की पुष्टि है. कोरोना वायरस को देखते हुए इंदौर में भी एक सम्मेलन र’द्द किया गया. कोरोना की वजह से अमेरिका में राष्ट्रीय आ’पात’काल का ऐलान कर दिया गया है. राष्ट्रपति ट्रंप ने इसकी घोषणा की. ट्रंप ने कोरोना से लड़ने के लिए 50 बिलियन डॉलर के फं’ड का भी ऐलान किया

वहीं आपको ये बता दे की दिल्ली में कोरोना वायरस की वजह से जिस महिला की मौ’त हो गई थी. उसका आज यानी शनिवार को निगमबोध घाट पर अंति’म संस्का’र करने से मना कर दिया गया. इससे परिजनों में काफी ज्यादा गुस्सा है. दिल्ली में शुक्रवार को कोरोना पीड़ित महिला की मौ’त हुई थी. पीड़ित महिला के परिजन निगमबोध घाट पर मौजूद हैं. रिश्तेदारों का कहना है कि उन्होंने इस बाबत निगम बोध घाट के हेड को फोन किया था और उन्हें स्थिति बताई थी. उन्होंने कहा कि डे’ड बॉ’डी यहां से ले जाएं और दूसरी जगह जाकर संस्का’र कर दें. दूसरी ओर लोधी रोड श्म’शान प्रशासन ने भी अंति’म संस्कार करने से मना कर दिया और कहा कि श’व को निग’मबोध घाट ले जाया जाए.

कोरोना का खौफ इस कदर बढता हुआ नज़र आ रहा है कि अब तो डे’ड बॉडी का अंति’म संस्कार भी कोई श्मशान घाट कराने को तैयार नही है. इनका कहना है कि कोरोना से संक्रमित डे’ड बॉ’डी अगर श्मशान पर ज’लाई जायेगी तो कोरोना वायरस फैलने का डर है. जिसकी वजह से ये निर्णय लिया गया है.