नोएडा में कोरोना का कहर जारी, 8 मरीज आये सामने, प्रशासन ने एक और सोसायटी के साथ क्या किया ?

1316

कोरोना वायरस का कहर बढ़ता हुआ नज़र आ रहा है. भारत में आये दिन कोई ना कोई मरीज सामने आ जाता है. महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा कोरोना के केस सामने आये है. आज तक महाराष्ट्र में 89 कोस कोरोना के पकड़े गये हैं. जिसको लेकर पूरा महाराष्ट्र बंद करने की कगार पर जबकी कुछ जगह लॉकडाउन हो चुका है. आज तो मुम्बई-पूणें एक्सप्रेसवे पर भी जनता की आवाजाही पूरी तरह से बंद कर दी है.

केंद्र सरकार ने कोरोना से लड़ने के लिए कई तरीके की तैयारी कर रखी है. कोरोना को देखते हुए मोदी ने कल यानी रविवार के दिन जनता कर्फ्यू का ऐलान किया था. जिसे काफी असर पड़ा. लेकिन कुछ लोगो ने इसको गलत तरीके से लिया और सड़क पर उतर आयें. जबकी इसमें लोगो से दूरी बना के रखना है. कोरोना को देखते हुए राज्य सरकार भी जी जान से लगी हुई हैं.

राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में सोमवार को एक और सोसायटी को सील कर दिया गया है. नोएडा में अबतक कोरोना के 8 मरीज सामने आ चुके हैं. अभी जिस सोसायटी को सील किया गया है उसका नाम निराल ग्रीनशायर है. यह नोएडा एक्सटेंशन में है. फिलहाल नोएडा को 25 मार्च तक लॉकडाउन कर दिया गया है. अभी तक यूपी के कुल 16 जिले लॉकडाउन कर दिए गए हैं.

कोरोना को मद्देनज़र रखते हुए योगी आदित्यनाथ पूरी तरह से चौकन्ने है और जरूरत के हिसाब से प्रदेश की जनता के लिए कड़े कदम उठा रहें हैं. कोरोना की वजह से मेट्रो, बस, ऑटो भी बंद कर दिया है.  हालांकि किसी भी जरूरी सामान की बिक्री पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा. दूध, किराना, फल, सब्जी और दवा की दुकानें इस दौरान खुली रहेंगी. सभी तरह के ऑफिस, कार्यालय,फैक्ट्री, स्कूल, कॉलेज आदि सब बंद रहेंगे.

ऑनलाइन सामान मंगाया जा सकेगा. कॉफी हाउस, कैफे, खाने-पीने के होटल, मिठाई की दुकानें, पार्लर, सैलून, मॉल आदि सब बंद रहेंगे. रसोई गैस की आपूर्ति पर लॉकडाउन का कोई असर नहीं होगा. किसी तरह की दिक्कत पर डायल 112 पर सूचना देने की अपील की गई है. इस दौरान इमरजेंसी के अलावा अन्य किसी सूरत में बाहर निकलने पर पाबंदी रहेगी.

जनता से अपील है कि सब लोग घर पर रहें ताकी कोरोना से बचा जा सके और लोगो को भी जागरुक करें ताकी उनकी वजह से बाकि लोगो में या वायरस ना फैल सके. इसी वजह से लगभग सभी प्रदेश ने लॉकडाउन कर दिया है.