लॉकडाउन खुलने के एक महीने बाद वुहान में फिर वापस लौटा कोरोना, बौखलाई चीन की सरकार ने उठाया ये कदम

2109

दुनिया भर में कोरोना फैला कर चीन ने अपने शहर वुहान से लॉकडाउन हटा दिया था और वहां सारे कामकाज शुरू हो गए थे. लेकिन लॉकडाउन हटाने के एक ही महीने बाद वुहान में फिर से कोरोना लौट आया. यूँ तो कोरोना ने चीन के दुसरे शहरों में अपने पाँव पसार कर अपनी वापसी का ऐलान पहले ही कर दिया था लेकिन इस वुहान शहर से दुनिया भर में कोरोना फैला, फिर से उस वुहान में कोरोना की वापसी ने चीन की सरकार की टेंशन बढ़ा दी.

वुहान में लॉकडाउन हटने के 30 दिनों बाद कोरोना के 5 नए मामले सामने आये. इससे पहले चीन ने ये कहते हुए लॉकडाउन खोला था कि उसने वुहान में कोरोना पर काबू पा लिया है. लेकिन नए 5 मामले मिलते ही चीनी सरकार और प्रशासन में हड़कंप मच गया. सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी ने एक स्थानीय अधिकारी समेत कई लोगों को खराब प्रबंधन के आरोप में बर्खास्त कर दिया है. संक्रमण के ये सभी मामले हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान के सनमिन आवासीय समुदाय में पाए गए हैं.

नए मामले सामने आने के बाद प्रशासन ने कहा है कि अब नए सिरे से मामले मिलने के बाद लोगों की टेस्टिंग फिर से शुरू की जायेगी. सरकारी समाचार समिति शिन्हुआ के मुताबिक़ जिन लोगों की जांच कराई जाएगी उनमें से 5000 लोग सनमिन आवासीय समुदाय के आसपास रहने वाले हैं और अन्य 14 हजार लोग पास के बाजार दुओलुओकोउ से हैं. वुहान शहर की आबादी 1 करोड़ आठ लाख है. जब कोरोना यहाँ फैलना शुरू हुआ तो 24 जनवरी को यहाँ लॉकडाउन का ऐलान किया गया. सब कुछ काबू में है कहते हुए वुहान से 73 दिनों बाद लॉकडाउन हटा दिया गया और सामान्य जनजीवन शुरू हो गया. लेकिन अब फिर से वुहान में कोरोना की वापसी ने चीन के माथे पर पसीना ला दिया है.