चीन के हार्बिन शहर में कोरोना से हाहाकार, एक ही दिन में आ गए इतने केस कि शहर करना पड़ा सील

2407

वुहान से लॉकडाउन हटा कर और जनजीवन सामान्य कर चीन ये दावा कर रहा था कि उसने कोरोना पर पूरी तरह से नियंत्रण पा लिया है. लेकिन उसकी ये घोषणा हवा हवाई साबित हुई. क्योंकि कोरोना एक बार फिर से चीन लौट आया है और इस बार उसने नए शहर पर हमला किया है. इस बार कोरोना ने हार्बिन शहर को निशाना बनाया है. ये शहर नया वुहान बन गया है. जसी कारण चीन ने इस शहर को सील कर दिया है. इसके बाद अधिकारियों ने बुधवार को क्षेत्र में गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया है. ये शहर रूस की सीमा पर स्थित है.

हीलॉन्गजियांग प्रांत का हार्बिन शहर कोरोना का नया कलस्टर बन कर उभरा है. इस प्रांत में बाहर से आए लोगों में कोरोना पाया गया. बाहर से आये सभी लोग चीनी नागरिक ही हैं जो विदेश से घर लौटे हैं. लेकिन ये कोरोना ले कर लौटे और चीन में हड़कंप मचा दिया. इसके बाद प्रांत के कई अधिकारियों को दंडित किया गया है या उन्हें नौकरी से हटा दिया गया है. शहर में बाहरी लोगों और वाहनों के रिहायशी इलाके में जाने पर रोक लगा दी गई है. हार्बिन शहर में हर व्यक्ति के लिए मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया गया है.

चीन के नैशनल हेल्थ कमिशन के मुताबिक, बुधवार को प्रांत में कोरोना के 537 कन्फर्म केस सामने आए हैं. इनमे से 384 बाहर से आए लोगों में पाए गए हैं. हालाँकि अब ये स्थानीय स्तर पर भी फैलने लगा है. इस शहर की आबादी एक करोड़ से अधिक है. प्रांत में स्कूलों और कॉलेजों को बंद कर दिया गया है.

अभी कुछ दिन पहले ही चीन ने वुहान से लॉकडाउन हटाया था. लेकिन लॉकडाउन हटाते ही वहां भी कोरोना के कई मामले सामने आ गए. चीन इस वक़्त पूरी दुनिया में घिरा हुआ है. दुनिया के हर देश चीन के रवैये से नाराज है. उसके बाद अब कोरोना की वापसी ने चीन की मुश्किलें बढ़ा दी है और उसके दावों की पोल खोल कर रख दी है.