कोरोना वायरस ने नोएडा में मचाया ह’ड़कं’प, बंद किये गए दो स्कूल, पीएम मोदी ने की अपील ‘घबराने की जरूरत नहीं’

1816

कोरोना वायरस ने भारत में दस्तक दे दिया और इसको लेकर दिल्ली से सटे नोएडा के एक स्कूल में ह’ड़कं’प मच गया. सुबह 11 बजे ही एक स्कूल ने बच्चों के अविभावकों को फोन कर उन्हें स्कूल बुलाया और बच्चों को घर ले जाने को कहा. साथ ही स्कूल ने अविभावकों को ये भी निर्देश दिया कि बच्चों को अगर सर्दी, खांसी, बुखार है तो स्कूल न भेजें. रिपोर्ट्स के मुताबिक दिल्ली में कोराना वायरस से संक्रमित पाए गए शख्स का बच्चा नोएडा के इस स्कूल में पढ़ता है. इस बात की जानकारी होते ही CMO (मुख्य चिकित्सा अधिकारी)  डॉ. अनुराग भार्गव खुद स्कूल पहुंचे और मामले की छानबीन की.

बताया जा रहा है कि नोएडा के दो स्कूलों को कुछ दिनों तक बंद कर दिया गया है. हालाँकि अभी तक किसी भी बच्चे में कोरोना वायरस की पुष्टि नहीं हुई है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बच्चे के पिता ने आगरा में एक पार्टी रखी थी जिसमे स्कूल के दो बच्चे समेत 5 लोग शामिल हुए थे. बच्चों समेत इन पांच लोगों की जांच ग्रेटर नोएडा में हो रही है. स्कूल को सेनेटाइज किया जा रहा है. CMO डॉ. अनुराग भार्गव ने बताया कि घबराने की कोई बात नहीं है, नोएडा में 40 लोगों के टेस्ट किये गए और सभी निगेटिव आये हैं.

CMO डॉ अनुराग भार्गव ने बताया कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा के 1000 से ज्यादा कंपनियों नोटिस दिया है. कंपनियों से कहा गया है कि ईरान, सिंगापुर चीन समेत 13 देशो से लौटने वाले लोगो की लिस्ट उन्हें सौंपी जाये. उनकी तुरंत स्क्रीनिंग की जायेगी. लोगों की मदद के लिए हेल्प लाइन नंबर जारी किये गए हैं. कोरोना वायरस के लक्षण सामने आने पर नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र को सूचना दें या फिर स्वास्थ्य मंत्रालय के 24 घंटे चलने वाले कंट्रोल रूम के फोन नंबर 011-23978046  पर कॉल कर जानकारी दें.

कोरोना पर मोदी ने ट्वीट कर कहा कि , ‘कोरोना वायरस की तैयारियों को लेकर समीक्षा की. मंत्रालय और राज्य मिलकर काम कर रहे हैं. भारत आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग हो रही है और चिकित्सा सुविधाएं भी दी जा रही हैं. डरने की जरूरत नहीं है.’