कोरोना ने चीन के अर्थव्यवस्था की उड़ा दी है धज्जियाँ, नए रिपोर्ट में हुआ खुलासा

7149

चीन से शुरू हुए कोरोना वायरस ने भले ही अब चीन से निकल कर दुनिया भर में कहर मचा रखा हो लेकिन ऐसा नहीं है कि उसने चीन को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया. कोरोना ने चीन के अर्थव्यवस्था की धज्जियाँ उड़ा कर रख दिया. कोरोना की वजह से दुनिया भर में लॉकडाउन और फिर मांग और खपत में कमी ने चीन की अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से झकझोर कर रख दिया है. ताजा आंकड़ों के अनुसार मार्च में समाप्त हुई पहली तिमाही में चीन की आर्थिक विकास दर में 6.8% की गिरावट दर्ज की गई है, जो साल 1970 के बाद जीडीपी विकास दर में सबसे बड़ी गिरावट है.

90 के दशक के शुरुआत के बाद ये पहली बार है जब चीन की अर्थव्यवस्था की ग्रोथ निगेटिव है. विश्लेषकों ने आशंका जताई है कि चीन की अर्थव्यवस्था की ग्रोथ और नीचे जा सकती है. क्योंकि चीन के जो भी प्रमुख बाज़ार हैं वो सब कोरोना की महामारी से जूझ रहे हैं और बंद पड़े हैं. कोरोना वायरस महामारी तथा इसे रोकने के लिए किए गए प्रयासों से चीन की रिटेल सेल्स और औद्योगिक उत्पादन को पहले ही बड़ा झटका लग चुका है.

इसके अलावा कई देश चीन से नाराज भी हैं. उनका मानना है कि चीन ने वायरस के बारे में शुरुआत में बातें छुपाई जिसकी वजह से दुनिया भर को इस महामारी से तबाही झेलनी पड़ पड़ रही है. कई कम्पनियाँ चीन से अपने बिजनेस को बाहर निकाल रही हैं. जिसकी वजह से चीन की अर्थव्यवस्था को और तगड़ा झटका लगना तय है.