कोरोना की वजह से देश में पहली मौ’त, सऊदी अरब से लौटा था मरीज

2349

पूरी दुनिया कोरोना से हलकान है. चीन, इरान और इटली पूरी तरह से लॉकडाउन है. सभी देश अपने बॉर्डर सील कर रहे हैं. चीन के बाद सबसे ज्यादा मौ’त इटली में हुई है. भारत में अब तक कोरोना के 75 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं. अब देश में कोरोना की वजह से मौ’त का पहला मामला भी सामने आ गया.

कोरोना वायरस की वजह से कर्नाटक में एक बुजुर्ग की जा’न चली गई. मरीज सऊदी अरब से लौटा था. उसकी उम्र 76 साल थी. ये मौ’त कर्नाटक के कुलबर्गा में हुई है. कर्नाटक सरकार के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, मृ’तक 29 जनवरी से 29 फरवरी तक सऊदी अरब में धार्मिक यात्रा पर था. 29 फरवरी को वह हैदराबाद पहुंचा और सीधे कर्नाटक के कलबुर्गी गया था. जहाँ वो बीमार हो गया. उसे सांस लेने में परेशानी होने लगी. खांसी, जुकाम और निमोनिया की शिकायत हुई.

जब मरीज की हालत बिगड़ी तो घर पर ही डॉक्टर ने उसका इलाज किया लेकिन जब हालात बिगड़ गए तो उसे कलबुर्गी के ही एक निजी अस्पताल में 9 मार्च को एडमिट कराया गया. जहाँ उसके सैम्पल को कोरोना जांच के लिए बेंगलुरु भेजा गया. कलबुर्गी जिला प्रशासन ने व्यक्ति के परिवार वालों से बात कर उन्हें इलाज के लिए कलबुर्गी के गुलबर्ग इंस्टीट्यूट ऑफ0 मेडिकल साइंसेस एंड हॉस्पिटल (जीआईएमएस) में भर्ती कराने की सलाह दी. इसी हॉस्पिटल में कोरोना वायरस का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है. लेकिन वहां पहुँचने से पहले ही रास्ते में ही मरीज की मौ’त हो गई. अब प्रशासन उन लोगों की तलाश कर रहा है जो मरीज के संपर्क में आये थे.

देश में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए दिल्ली और हरियाणा में इसे महामारी घोषित कर दिया गया है. दिल्ली में 31 मार्च तक स्कूल-कॉलेज और सिनेमाहॉल बंद कतर दिए गए हैं. उत्तराखंड में भी 31 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं.