लॉकडाउन में ढील पड़ रही महँगी, पिछले चौबीस घंटों में सामने आ गए कोरोना के इतने मामले, आज पीएम मोदी की बड़ी बैठक

2279

4 मई से लागू लॉकडाउन के तीसरे चरण में केंद्र सरकार ने कुछ ढील दी थी. लेकिन लगता है ये ढील अब भारी पड़ने लगी है. आंकड़े तो यही बता रहे हैं. पिछले चौबीस घंटों के कोरोना के इतने मामले सामने आ गए कि केंद्र सरकार और राज्य सरकारों को टेंशन होने लगी है. पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना के 4 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं और करीब 100 लोगों की मौ’त हुई है. देश में अब तक कोरोना के कुल कंफर्म केस की संख्या 67 हजार 152 हो गई है. 2 हजार 206 लोगों की मौ’त हो चुकी है. हालाँकि 20 हजार 917 लोग ठीक भी हो चुके हैं. लेकिन लगातार बढ़ता संक्रमण चिंता का कारण बना हुआ है.

कोरोना के मामलों में महाराष्ट्र अब भी नंबर वन बना हुआ है. यहां अब तक 22 हजार 171 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें 832 लोगों की मौ’त हो चुकी है. महाराष्ट्र में मुंबई कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ है. महाराष्ट्र में एक तरह से हालात काबू से बाहर निकलता जा रहा है. उद्धव सरकार संक्रमण रोकने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुई है. महाराष्ट्र के बाद गुजरात भी केंद्र सरकार के लिए चिंता का विषय बना हुआ है. कोरोना संक्रमण के मामले में महाराष्ट्र के बाद गुजरात नंबर 2 पर है. गुजरात में अब तक कोरोना के 8 हजार 194 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें 493 लोगों की मौ’त हो चुकी है. गुजरात का औद्योगिक नगर अहमदाबाद कोरोना का हॉटस्पॉट बना हुआ है.

Hyderabad: Medical workers attend to a suspected coronavirus patient (L), who travelled from Dubai, as he is shifted to the isolation ward of Gandhi Hospital, in Hyderabad, Thursday, March 19, 2020. (PTI Photo)(PTI19-03-2020_000132B)

तमिलनाडू में कोरोना के 7204 मामलों की पुष्टि हुई है, जिसमें 47 लोगों की मौ’त हो चुकी है. जबकि छोटे से राज्य दिल्ली में भी आंकड़ा 7 हज़ार तक पहुँच चुका है. दिल्ली सरकार ने तो लॉकडाउन में ढील देते हुए कार्यालयों और दुकानों को खोलने की अनुमति दे दी थी. दिल्ली में कोरोना 73 लोगों की जा’न ले चुका है. 17 मई को लॉकडाउन का तीसरा चरण ख़त्म हो रहा है. उसके बाद लॉकडाउन को आगे बढाने को लेकर पीएम मोदी और मुख्यमंत्रियों का जा महत्वपूर्ण बैठक होने वाली है. इस बैठक में हालात की समीक्षा की जायेगी और कोई बड़ा फैसला लिया जाएगा.