अयोध्या के विवादित ढांचे पर कोर्ट का 28 साल बाद आया फैसला तो सीएम योगी ने कही ये बड़ी बात

222

अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुना दिया था. काफी इंतजार के बाद मंदिर के पक्ष में फैसला आया जिसके बाद अब मंदिर के निर्माण की नींव भी रखी जा चुकी है और निर्माण कार्य शुरू हो गया है. वहीँ 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में वि’वा’दित ढां’चा ढहा’ए जाने के मामले में 28 साल बाद विशेष कोर्ट का फै’सला आ गया है.

जानकारी के लिए बता दें 28 साल बाद जज सुरेंद्र कुमार यादव की विशेष अदालत ने वि’वादि’त ढां’चा ढ’हाए जाने में अपना फैसला सुनाया है. जज ने अपने फैसले में कहा है कि यह वि’ध्वं’श पूर्व नि’योजित नहीं था बल्कि आ’कस्मि’क घ’टना थी. जिसके चलते विशेष अदालत ने लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और कल्याण सिंह समेत सभी अ’भियु’क्तों को ब’री कर दिया है.

कोर्ट का फैसला आने के बाद अब सभी लोगों की प्र’तिक्रया आना शुरू हो गयी हैं. इसी बीच सीएम योगी ने कोर्ट के फैसले का स्वा’गत किया है और बड़ी बात कही है.

सीएम योगी ने कहा है कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा रा’जनीतिक पू’र्वाग्रह से ग्रसि’त होकर पूज्य संतों, बीजेपी ने’ताओं, विहिप पदाधिकारियों, समाजसेवियों को झू’ठे मुक’दमों में फँसा’कर बदना’म किया गया. इस षड्यंत्र के लिए इन्हें जनता से मां’फी मांगनी चाहिए.