अमेरिका में कोरोना से अब तक 38 हज़ार लोगों की मौ’त, ट्रम्प ने चीन को दी परिणाम भुगतने की चेतावनी

5897

चीन के वुहान से निकल कर चाइनीज वायरस ने अमेरिका ने ऐसा कहर मचाया है जिसकी अमेरिका क्या किसी ने भी कल्पना नहीं की होगी. अम्रीका में करीब डेढ़ लाख लोग कोरोना से संक्रमित हैं जबकि 38 हज़ार लोगों की मौ’त हो चुकी है. बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस से 1,891 लोगों की मौ’त हुई है. इसको लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का गुस्सा सातवें आसमान पर है और इसी वजह से उन्होंने चीन को परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है.

राष्ट्रपति ट्रम्प ने चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि वो कोरोना वायरस के संक्रमण जान-बूझकर फैलाने का जिम्मेदार पाया जाता है तो नतीजे भुगतने के लिए तैयार रहे. दरसल चीन ने शुरू से ही इस वायरस के प्रति ऐसा संदिग्ध रवैया अपनाया है जिससे वो शक के दायरे में है. पहले तो उसने इस वायरस के बारे में सबसे छुपाया है. संक्रमितों और मौ’त के आंकड़ों को भी छुपा के रखा. इसमें उसे WHO का पूर्ण सहयोग मिला. पहले उसने ये कहा कि ये वायरस इंसानों से इंसानों में नहीं फैलता. लेकिन जब हालात बिगड़ने लगे तो कहा ये वायरस इंसानों से इंसानों में फैलता है. उसके बाद चीन ने मौ’त के गलत आंकड़े जारी किये. फिर ताजा आंकड़े में वुहान में हुई मौ’त के आंकड़े अचानक से 50 फीसदी बढ़ गए.

व्हाइट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए ट्रंप ने कहा, ‘यदि वे जान बूझकर जिम्मेदार हैं तो, इसके परिणाम भुगतने को तैयार रहें, आपको पता है, आप जिंदगियों की बात कर रहे हैं, जैसा कि 1917 से कोई नहीं देखा है.’ उन्होंने कहा , ‘आपको पता है, सवाल पूछा गया था कि क्या आप चीन पर गुस्सा होंगे…देखिए…इसका जवाब एक बड़ा सा हां हो सकता है, लेकिन ये निर्भर करता है कि एक गलती की वजह से चीजें नियंत्रण से बाहर हो जाए और कुछ जानबूझकर किया जाए तो इसमें अंतर है.’