पत्रकार ने चीन के विदेश मंत्रालय से पूछा ‘आपके कितने सैनिक मा’रे गए? चीनी विदेश मंत्रालय की बोलती हो गई बंद

5493

गलवान घाटी में भारतीय और चीनी सैनकों के बीच हुई खु’नी झ’ड़प में भारत के 20 सैनिक शहीद हो गए जबकि कई अन्य सैनिक घा’यल हो गए. खुद भारतीय सेना और विदेश मंत्रालय ने ये बात देश की जनता को बताई. साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि चीन को काफी नु’कसान उठाना पड़ा है और उनके 50 या उससे अधिक सैनिक म’रे गए या घा’यल हो गए. चीनी मीडिया ने ये तो माना कि इस झ’ड़प में चीन को नुकसान हुआ है लेकिन उन्होंने संख्या बताने से इनकार कर दिया. वो संख्या को लेकर टाल मटोल करते रहे जबकि अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसियों का कहना है कि इस झ’ड़प में चीन के करीब 50 सैनिक मा’रे गए या घा’यल हुए हैं.

चीनी विदेश मंत्रालय की पर्स कांफ्रेंस मे जब पीटीआई की तरफ से सवाल पूछा गया कि भारतीय मीडिया में चीनी सैनिकों के हताहत होने की बात कही जा रही है क्या आप इसकी पुष्टि करते हैं? आपके कितने सैनिक मा’रे गए या घा’यल हुए? लेकिन इस सवाल के जाब में चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता की बोलती बंद हो गई और वो घुमा फिर कर जवाब देने लगे. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चाओ लिजियान ने कहा,  ‘जैसा कि मैंने कहा कि दोनों देशों के सैनिक ग्राउंड पर ख़ास मसलों को हल करने की कोशिश कर रहे हैं. मेरे पास ऐसी कोई जानकारी नहीं है जिसे यहां जारी करूं. मेरा मानना है और आपने भी इसे देखा होगा कि जब से यह हुआ है तब से दोनों पक्ष बातचीत के ज़रिए विवाद को सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं ताकि सरहद पर शांति बहाल हो सके.’

इससे पहले चीनी सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स के रिपोर्टर ने झ’ड़प की खबर ब्रेक होने के तुरंत बाद माना था कि चीन को नुकसान हुआ है. शुरुआत में उन्होंने 5 सैनिकों के मा’रे जाने की बात बताई. लेकिन जैसा कि सब जानते हैं कि चीन में तानाशाही है और वही खबरें सामने आती है जो चीन की सरकार चाहती है तो ग्लोबल टाइम्स के रिपोर्टर तुरंत उस खबर से पलट गए और अपना ट्वीट डिलीट कर दिया था.