मुसीबत में भी चीन की जारी हैं पॉलिटिक्स, भारतीय विमान को इजाजत देने में देरी

2219

चीन के वुहान शहर में लगातार कोरोना वायरस का प्र’कोप फैलता जा रहा है. जिसकी वजह से चीन में अभी तक 2200 से अधिक लोगो की मौ’त हो चुकी हैं और बाकी लोग इस भयंकर बीमारी से ग्रषित हैं. चीन इस बीमारी से बचने के लिए लगातार कोशिश कर रहा है. वहीं दूसरी तरफ में फं’से भारतीयों को भी चीन से निकाला जा चुका हैं लेकिन कुछ भारतीय अभी भी चीन के वुहान में फं’से हुए है.

वुहान में कोरोना वायरस की वजह से कई लोगो की मौ’त हो चुकी है और इस मुश्किल समय में भी चीन भारत का विमान आने की इजाजत देने में देरी कर रहा है. दरअसल चीन में फैले कोरोना वायरस की वजह से कई लोग इसकी चपेट में आ गये है और उसमे से कुछ लोग मौ’त के काले मुहं में भी जा चुके है. जबकि कुछ लोगो को वुहान से निकल जा चुका है लेकिन कुछ भारतीय लोग अभी भी वुहान में फं’से हुए हैं.

चीन ने वायुसेना के विमान को आने की इजाजत देने में जानबूझ कर देरी की हैं. जबकि यह विमान भारत की तरफ से वुहान में कोरोना वायरस की चपेट में आये लोगो के लिए दवाई लेकर जायेगा और वापसी में वहां फं’से भारतीय लोगो को लेकर भारत आयेगा. बता दें कोरोना वायरस से वुहान में 45,346 के लगभग लोग ग्रषित है.

बता दें वायुसेना का विमान C-17 ग्लोबमास्टर 20 फरवरी को चीन के वुहान के लिए उड़ान भरने वाला था. लेकिन चीन की तरफ से इजाजत न मिलने के कारण विमान उड़ान नहीं सका. जबकि समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार मिली जानकारी में चीन जानबूझकर भारत के विमान को मंजूरी देने में देरी कर रहा है. जिसकी वजह न तो चीन में दवाई पहुँच प् रही हैं और न ही वहां फं’से भारतीय वापस आ पा रहे हैं. जबकि विदेश मंत्रालय ने कहा हैं कि जो लोग भी भारत आना चाहते हैं वो भारत के दूतावास में जाकर संपर्क करे. वहीं दूसरी तरफ चीन ने कहा कि दोनों देशो के अधिकारी इस विषय पर अंतिम बातचीत कर रहे हैं.